साल 2009 की पहली रिसर्च में अब नासा को मिली बड़ी कामयाबी, चांद के लूनर पिट्स पर बनाएं अपना घर

साल 2009 से चन्द्रमा के लूनर पिट्स पर चल रहीं खोज में अब मनुष्यों के रहने लायक जगह मिल गई है। ये ऐसे गड्डे है, जहां पर इंसानो के लिए पर्याप्त तापमान है।

साल 2009 से चन्द्रमा के लूनर पिट्स पर चल रहीं खोज में अब मनुष्यों के रहने लायक जगह मिल गई है। ये ऐसे गड्डे है, जहां पर इंसानो के लिए पर्याप्त तापमान है। इन गड्ढों को नासा (NASA) के लूनर रीकॉन्सेंस ऑर्बिटर (LRO) की मदद से खोजा गया है। इनके भीतर 17 डिग्री सेल्सियस तापमान है। इतने तापमान पर जीवन यापन आराम से किया जा सकता है और भविष्य में ऐसे गड्ढों के अंदर इंसान घर बना सकते है।

गौरतलब है कि, नोआ पेट्रो के अनुसार, लूनर पिट्स की खोज पहली बार साल 2009 में हुई थी। ये गड्ढे अलग होते हैं और पिट्स अलग, गड्ढे छिछले हो सकते हैं लेकिन पिट्स वर्टिकली सीधी गहराई वाले होते हैं। अगर इनके जाने का रास्ता मिले तो इनके अंदर एस्ट्रोनॉट्स अपने रहने की जगह का निर्माण कर सकते हैं, क्योंकि यहां पर सोलर रेडिएशन, घटते-बढ़ते तापमान और छोटे उल्कापिंडों के टकराने का डर नहीं रहता। ये चांद की सतह से ज्यादा सुरक्षित होते हैं।

Also Read : आलिया भट्ट की प्रेग्नेंसी में शार्प जॉलाइन पर फ़िदा हुए अर्जुन कपूर, देखते ही कह दी ये बात

इन गड्डो की खोज की गई रिसर्च जर्मनी के जियोफिजिकल रिसर्च लेटर्स में प्रकाशित हुई थी। वैज्ञानिक इस बात पर हैरान हैं कि चंद्रमा के अन्य इलाकों के गड्ढों से ये रहने लायक गड्ढे एकदम अलग हैं। चांद पर दिन दो हफ्ते लंबा होता है। यहां पर तापमान इतना ज्यादा हो सकता है कि धरती पर पानी उबल जाए, ऐसे में इन गड्ढों में रहने लायक स्थितियों का होना खुशखबरी मानी जा रही है।

चांद पर रहने लायक ये गड्ढे मेयर ट्रांक्विलिटैटिस यानी सी ऑफ ट्रांक्विलिटी में मिले हैं. ये गड्ढे 328 फीट गहरे हैं। इन गड्ढों का तापमान चांद की बाकी सतह से थोड़ा ही बदलता है। ज्यादा अंतर नहीं आता, NASA के गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर के LRO प्रोजेक्ट की साइंटिस्ट नोआ पेट्रो ने कहा कि लूनर पिट्स यानी चांद के गड्ढे बेहद हैरान करते हैं। अगर इनका तापमान लगातार स्थिर रहता है तो यहां इंसानी कॉलोनी बनाई जा सकती है।

चांद पर हो सकता है इंसानों को इन पिट्स जैसे गुफाओं में रहना पड़े। इसमें कोई बुराई भी नहीं है, क्योंकि इंसानों के पूर्वज गुफाओं में रहते थे। अगर सबकुछ सही रहता है तो अगले कुछ वर्षों में इंसान चांद की सतह पर लौटेंगे, वहां अपनी कॉलोनी बनाएंगे। ये लूनर पिट्स उनकी सुरक्षित कॉलोनी बनाने का सपना पूरा करने में मदद कर सकते हैं।