निर्भया केस: SC ने खारिज की दोषियों की पुनर्विचार याचिका, फांसी की सजा बरकरार

0
19
Supreme_court_cow_vigilantism

देश को झकझोर देने वाले निर्भया गैंगरेप मामले में आज सुप्रीम कोर्ट दोषियों की पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी है. कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए  दोषियों की फांसी की सजा को बरकरार रखा है. पवन, मुकेश, विनय की फांसी की सजा को बरकरार रखा गया है. बता दे कि दोषी अक्षय ठाकुर ने पुनर्विचार याचिका दायर नहीं की थी.

बता दे कि निर्भया कांड के चार दोषियों में से तीन दोषियों ने ही पुनर्विचार याचिका दायर की थी। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति आर भानुमति और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ के. मुकेश (29), पवन गुप्ता (22) और विनय शर्मा की याचिकाओं पर अपना फैसला सुनाएंगे।गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने 5 मई 2017 को इस मामले में दोषियों को फांसी की सजा की सुनाई थी। कोर्ट के इस फैसले के बाद इन दोषियों ने पुनर्विचार याचिका दायर की थी। निर्भया के पिता का कहना है कि ‘निर्भया देश की बेटी है और देश को इस फैसले का इंतजार है, मुझे उम्मीद है कि हमें न्याय मिलेगा’।

बता दे कि राजधानी दिल्ली में चलती बस में निर्भया के साथ छह लोगो ने सामूहिक बलात्कार किया था और उसे गंभीर चोट पहुंचाने के बाद सड़क पर फेंक दिया था। इलाज के दौरान सिंगापुर के माउन्ट एलिजाबेथ अस्पताल में 29 दिसंबर 2012 को उसकी मौत हो गई थी।छह आरोपियों में से एक राम सिंह ने तिहाड़ जेल में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी. आरोपियों में एक नाबालिग भी शामिल था, जिसे किशोर न्याय बोर्ड ने दोषी ठहराया और तीन साल के लिए सुधार गृह में रखे जाने के बाद रिहा कर दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here