डेली कॉलेज के प्रिंसिपल नीरज बढ़ोतिया को हटाया, पंवार बने नए अध्यक्ष

यह फैसला भले ही एकदम से सामने आया हो लेकिन इसकी खींचतान लंबे समय से चल रही है. प्रिंसिपल के चयन को लेकर बोर्ड के सदस्यों में आपस में खींचतान हो रही थी जिसके चलते ना ही नया प्रिंसिपल नियुक्त किया जा रहा था और ना ही नीरज बढ़ोतिया को कार्यकाल बढ़ाकर जिम्मेदारी दी जा रही थी.

इंदौर। शहर के प्रसिद्ध डेली कॉलेज के मैनेजमेंट में एकाएक बदलाव हुआ है. अचानक हुए इस बदलाव ने सभी को चौंका कर रख दिया है. बोर्ड सदस्यों की ओर से लिए गए फैसले के आधार पर प्रिंसिपल नीरज बढ़ोतिया को पद से हटा दिया गया है. वही झाबुआ की जगह विक्रम पंवार को नया अध्यक्ष बनाया गया है.

यह फैसला भले ही एकदम से सामने आया हो लेकिन इसकी खींचतान लंबे समय से चल रही है. प्रिंसिपल के चयन को लेकर बोर्ड के सदस्यों में आपस में खींचतान हो रही थी जिसके चलते ना ही नया प्रिंसिपल नियुक्त किया जा रहा था और ना ही नीरज बढ़ोतिया को कार्यकाल बढ़ाकर जिम्मेदारी दी जा रही थी.

Must Read- इस राम नवमी पर होगा शुभ संयोग, जाने शुभ मुहूर्त

प्रिंसिपल के चयन के लिए भोपाल में इंटरव्यू भी लिए जा रहे थे. जहांनुमा पैलेस में 1 दिन में 5 लोगों के इंटरव्यू लेने का लक्ष्य रखा गया था ताकि जल्द से जल्द नया प्रिंसिपल नियुक्त किया जा सके. बताया यह भी जा रहा था कि प्रिंसिपल नियुक्त करने के लिए राजनीतिक दबाव भी डाला जा रहा है. हालांकि, किस नाम को लेकर यह दबाव था यह सामने नहीं आ पाया.

बोर्ड के कुछ सदस्य प्रिंसिपल बढ़ोतिया का कार्यकाल बढ़ाना चाहते थे, वहीं कुछ का कहना था कि कार्यकाल समाप्त हो गया है इसलिए नया प्रिंसिपल रख लिया जाए. प्रिंसिपल बढोतिया की अलग कार्यशैली कही न कही उनके हटाए जाने की वजह बनी. कहा ये भी जा रहा है की उनके सेवा काल में डेली कॉलेज का शिक्षा का स्तर कमजोर हुआ था, उन्हें हटाए जाने से कई लोग खुश भी है. अब डेली कॉलेज के प्रिंसिपल पद से बढ़ोतिया को हटा दिया गया है, वहीं अध्यक्ष पद भी विक्रम पंवार को दिया गया है. नरेंद्र सिंह झाबुआ को बोर्ड का सदस्य बनाते हुए, उनके बेटे जयसिंह झाबुआ बोर्ड मेंबर से हटा दिया गया है. उनकी जगह संजय पाहवा को डायरेक्टर की जिम्मेदारी दी गई है. जानकारी के मुताबिक देहरादून उत्तराखंड के प्रसिद्द स्कूल वेलहैम्स से आई गुरमीत कौर बिंद्रा को इंदौर के डेली कॉलेज के प्रिंसिपल पद की जिम्मेदारी दी गई है.