राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का मध्य प्रदेश में आज छठवां दिन है। यह यात्रा रविवार सुबह यात्रा महू के दशहरा ग्राउंड मरकाम लेन से शुरू हुई और राऊ के बाद इंदौर पहुंची। जहाँ बीती शाम कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने इंदौर राजबाड़ा में एक सभा को सम्बोधित भी किया। जहाँ उन्होंने कहा कि चीन की सेना से ज्यादा खतरा GST और नोटबंदी कानून को है।

जिसके बाद भाजपा नेता इस पर कड़ा विरोध जता रहे है। इसके अलावा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने राहुल गाँधी पर निशाना साधते हुए कहा उनके बयानों से स्पष्ट हो रहा है कि ये भारत जोड़ो यात्रा नहीं, भारत तोड़ो यात्रा है। वो न सिर्फ कानून का मखौल उड़ा रहे हैं बल्कि कांग्रेस की मानसिकता भी उजागर हो रही है। हाल ही में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे भी लगाए गए। उन्होंने कहा कि कल तो इंदौर की सभा में राहुल गाँधी ने कहा कि चीन की सेना से ज्यादा खतरा GST और नोटबंदी कानून को है। दुर्भाग्य की बात है कि आप एक दिन पहले बाबा साहब अंबेडकर की जन्मभूमि पर गए और वहां से लौटकर आप भारत के कानून जो संसद में बनता है, उसका मखौल उड़ाते हो।’

इसके अलावा बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष ने सवाल किया कि मैं तो पूछना चाहता हूं कि राहुल गांधी जी आपका चीन से इतना प्रेम क्यों है। उन्होने कहा कि ‘ मुझे कहने में कोई संकोच नहीं है और ये कोई आश्चर्यजनक बात नहीं है क्योंकि राहुल गांधी जी और कांग्रेस का चीन से अपना बड़ा पुराना नाता है। उनकी बड़ी पुरानी दोस्ती रही है।

Also Read : Jannat Zubair ने साड़ी पहन बरपाया कहर, दिखाईं कातिलाना अदाएं

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जब वाणिज्यकर मंत्री थे तब उन्होंने राजीव गांधी फाउंडेशन को लाभ दिलाने के लिए चीन को मदद की थी। हम सब लोगों ने और पूरे देश ने इस बात को देखा है। संसद के अंदर उनकी आदत रही है कानून का मखौल उड़ाने की। उन्हीं की सरकार में उन्हीं के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी के समय में संसद के अंदर बिल को फाड़कर फेंक देना सामान्य है कि असामान्य है।