‘लेस्बियन वाले करवाचौथ’ ने मचाया बवाल, MP के गृहमंत्री ने दी कंपनी को चेतावनी

आमिर खान के दीपावली और ''जश्न-ए-रिवाज'' वाले ऐड के बाद अब फेम ब्यूटी प्रोडेक्ट के लेस्बियन वाले करवाचौथ के विज्ञापन पर हंगामा मच गया है।

आमिर खान के दीपावली और ”जश्न-ए-रिवाज” वाले ऐड के बाद अब फेम ब्यूटी प्रोडेक्ट के लेस्बियन वाले करवाचौथ के विज्ञापन पर हंगामा मच गया है। बताया जा रहा है कि इस एड को लेकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई है। इस मामले ने इतना ज्यादा तूल पकड़ लिया है कि अब इसमें राजनैतिक हस्तकक्षे भी हो गया है। दरअसल, हाल ही में मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस पर बयान दिया है।

जानकारी के मुताबिक, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मैं इसे काफी गंभीर विषय मानता हूं, क्योंकि हिंदू धर्म के त्यौहारों को लेकर ही ऐसे ऐड क्यों दिखाए जाते हैं। आज वो लेस्बियन को करवाचौथ मनाते दिखा रहे हैं। कल दो लड़कों को फेरे लेकर शादी करते दिखा देंगे। इसपर मैंने डीजीपी को आदेश दिया है कि मामले पर कंपनी से बात करें और इसे हटाए वरना हम कंपनी पर कार्रवाई करेंगे।

बताया जा रहा है कि करवाचौथ वाले ऐड को लेकर सोशल मीडिया पर एक गुट में आक्रोश देखा जा रहा है। ऐसे में इस विज्ञापन को लोग नस्लभेद को बढ़ावा देने वाला बता रहे हैं। दरअसल, कुछ यूजर्स का कहना है कि विज्ञापन में प्रगतिशीलता का संदेश दिया है। डाबर के फेयरनेस प्रोडक्ट फेम से जुड़े इस विज्ञापन में 2 लड़कियों के यानी एक समलैंगिक जोड़े को करवा चौथ मनाते दिखाया गया है।

जानकारी के मुताबिक, विज्ञापन ऑनएयर होने के बाद से कुछ लोग कंपनी पर हिंदुओं के त्योहारों को निशाना बनाने के आरोप लगा रहे हैं। वहीं कुछ यूजर्स का कहना है कि इस विज्ञापन में प्रगतिशीलता का संदेश देने की कोशिश तो हुई है, लेकिन एक फेयरनेस उत्पाद को बढ़ावा देना अपने आप में जातिवादी और नस्लवादी है। इन दोनों वजहों से डाबर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर है।