Indore News : इंदौर शहर में चाकूबाजी की घटनाओं के मामले में गंभीरता से कार्रवाई कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए उप पुलिस महानिरीक्षक इंदौर शहर मनीष कपूरिया ने निर्देश दिए थे। इसी तारतम्य में पुलिस अधीक्षक पूर्व  आशुतोष बागरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशिकांत कनकने, नगर पुलिस अधीक्षक मोती उर रहमान ने कार्रवाई के लिए निर्देशित किया था।

आजाद नगर इलाके में 8 नवंबर को भरत जोशी निवासी मयूरनगर पर चाकू से जानलेवा हमला कर दिया गया था। इस घटना में भरत को सर, व चेहरे पर 6-7 चाकू के वार किये थे जिसमें कुल 60 टांके आए थे। आजाद नगर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू की थी।

ये भी पढ़े – तमिलनाडु में नहीं थम रहा बारिश का कहर, घनी धुंध में दिल्ली की हवा!

बुधवार को जानकारी मिली की आरोपी चेतन पिता मनोहर चौहान उम्र 25 वर्ष निवासी मयूर नगर को पिंक सिटी के पास घूमते देखा गया है। इस जानकारी पर थाना प्रभारी आजाद नगर इंद्रेश त्रिपाठी और उनकी टीम ने घेराबंदी कर चेतन को गिरफ्तार किया। उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त चाकू को पुलिस ने जब्त किया।

पूछताछ में चेतन ने बताया कि उसकी बहन सोनाली चौहान ने 1 साल पहले भरत के साथ आर्य समाज मंदिर में प्रेम विवाह किया था। परिवार के लोग इस शादी के खिलाफ थे। कुछ दिन पहले खर्चे की बात को लेकर सोनाली और भरत के बीच विवाद हो गया था। जिसके बाद सोनाली अपने मायके आ गई थी। विवाद की बात उसने भाई चेतन को बताई थी।

इसी में समझौता करने के बहाने चेतन ने योजना बनाकर भरत जोशी को बुलाया था और उस पर जानलेवा हमला कर दिया था। घटना के बाद चेतन फरार हो गया था। पुलिस ने बुधवार को उसे गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त चाकू जप्त कर माननीय न्यायालय में पेश किया। उसे जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया।