Indore News : गृह मंत्री ने स्वामी विवेकानंद जयंती पर हितग्राहियों को स्वीकृति तथा वितरण पत्र किए भेंट

स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा दिवस को आज जिले में रोजगार दिवस के रूप में मनाया गया।

इंदौर(Indore News): स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा दिवस को आज जिले में रोजगार दिवस के रूप में मनाया गया। इंदौर जिले के प्रभारी तथा गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा और पर्यटन तथा संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने आज जाल सभागृह में आयोजित कार्यक्रम में प्रतीक के रूप में 127 युवाओं को साढ़े 14 करोड़ रूपये से अधिक की राशि का वितरण किया। आज पूरे जिले में लगभग 40 हजार युवाओं को लाभांवित किया गया। इन युवाओं को स्वरोजगार के लिये 228 करोड़ रूपये से अधिक की राशि उपलब्ध कराई गई।

कार्यक्रम में सांसद शंकर लालवानी, इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा, विधायक महेंद्र हार्डिया तथा  आकाश विजयवर्गीय, कलेक्टर मनीष सिंह, नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल, पूर्व विधायक राजेश सोनकर तथा जीतू जिराती, गौरव रणदिवे विशेष रूप से मौजूद थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए इंदौर जिले के प्रभारी तथा गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मध्यप्रदेश में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। वर्तमान में राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों से रोजगार के अवसर तेजी से बढ़ रहे हैं।

कोरोना जैसी आपदा को भी रोजगार के अवसर में बाधा नहीं बनने दिया गया है। राज्य सरकार द्वारा पूरे प्रयास किए जा रहे हैं कि मध्य प्रदेश में नित-नए रोजगार का सृजन हो, इसके लिए युवाओं को विभिन्न शासकीय योजनाओं के अंतर्गत पूरी मदद उपलब्ध कराई जा रही है। प्रदेश में आधारभूत संरचनाओं के विकास पर भी भरपूर राशि खर्च की गई है। उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक आपदा में हमारी सरकार आमजन के साथ खड़ी रही। उन्हें पूरी मदद की गई। हमारी सरकार गांव, गरीब और किसानों के प्रति संवेदनशील सरकार है। उन्होंने कहा कि जिस तरह इंदौर सफाई में देश में अग्रणी बना, उसी तरह रोजगार के अवसर देने में भी अग्रणी बनेगा।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी युवाओं के आदर्श हैं। उन्होंने युवाओं को सद् मार्ग पर चलने की नई राह दिखाई है। युवा उनसे प्रेरणा लेकर उत्साह, लगन और मेहनत से कार्य करें और भारत को आत्मनिर्भर बनाएं। कार्यक्रम को सांसद शंकर लालवानी ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आज का यह कार्यक्रम युवाओं को रोजगार की गतिविधियों से जोड़ने का बड़ा और प्रभावी कार्यक्रम हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से बालाघाट, नीमच, झाबुआ, ग्वालियर, रीवा, टीकमगढ़ के हितग्राहियों से चर्चा की एवं उनके अनुभव सुने। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि युवा रोजगार मांगने वाले नहीं, रोजगार देने वाले बने। स्वयं का रोजगार लगाओ, राज्य सरकार द्वारा पूरी मदद की जाएगी। कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि रोजगार दिवस पर इंदौर जिले में 40 हजार युवाओं को 228 करोड़ से अधिक राशि की स्वीकृति तथा वितरण पत्र सौपे गये। कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि जिले में उक्त युवाओं को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथकर विक्रेता योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम आदि के तहत लाभांवित किया गया।