देश के मौसम में बदलाव का दौर जारी है। वही मौसम विभाग के अधिकारी भी लगातार बदलते मौसम को देखते हुए एक बार फिर चेतावनी जारी की है और अलर्ट जारी किया है। उन्होंने बताया कि नवंबर का महीना हल्का गर्म रहने वाला है। लोगों को सर्दियों के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है।

हालांकि कुछ ऐसे में भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की गई है। केरल कर्नाटक तमिलनाडु सहित सात राज्यों में बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। वहीं जम्मू कश्मीर लद्दाख हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी दिन का तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग की माने तो इस बार शीतलहर के डर से इनकार किया गया है।

शीतलहर की स्थिति

देश के कुछ क्षेत्रों में बादल छाए रहेंगे न्यूनतम तापमान में गिरावट देखने को मिल सकती है। नवंबर में शीतलहर की स्थिति नहीं रहेगी। हालांकि दिसंबर में मौसम तेजी से बदलेगा नवंबर के मध्य में कई जगह पर सर्दियों की स्थिति देखने को मिल सकती है रातें सर्द होनी शुरू हो गई है 29 अक्टूबर को तमिलनाडु और आसपास के क्षेत्र में पूर्वोत्तर मानसून पूरी तरह से स्थापित हो गया जबकि दक्षिण पश्चिम मानसून की वापसी में भी देखने को मिल रही है।

कुछ जिलों में हुई बर्फबारी 

इसके अलावा आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के कुछ स्थानों पर मध्यम बारिश हुई। इन क्षेत्रों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। तमिलनाडु केरल दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक और रॉयलसीमा में मध्यम बारिश का पूर्वानुमान जारी किया गया है। उत्तराखंड के कुछ इलाकों में बर्फबारी देखने को मिल सकती है। तमिलनाडु के कई इलाकों में स्कूल बंद कर दिए गए। पडुचेरी कराईकल में अवकाश घोषित किया गया है।

माइनस में पहुंचा तापमान 

हिमाचल उत्तराखंड में 2 दिन बारिश बर्फबारी के आसार जताए गए हैं। केलांग का न्यूनतम तापमान माइनस में पहुंच चुका है। इसके साथ ही कई क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान 0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। शिमला में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री से भी सुंदर नगर में 9.4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया है। वहीं मंडी में तापमान घटकर 10 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। मौसम विभाग ने लेह लद्दाख सहित उत्तराखंड और हिमाचल में बर्फबारी का भी अलर्ट जारी किया है। जिसके कारण कई क्षेत्रों में ठंड बढ़ने की संभावना जताई गई है।

पांच दिनों तक भीषण बारिश

बीते बुधवार को मौसम विभाग ने बताया था कि, तमिलनाडु, पुडुचेरी और करईकल और केरल में अगले पांच दिनों के दौरान भारी बारिश का अनुमान लगाया है। विभाग ने कहा कि 2-6 नवंबर के बीच केरल और माहे, तमिलनाडु, पुडुचेरी, करईकल में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। केरल को छोड़कर तीनों क्षेत्रों में 4 और 5 नवंबर को भारि बारिश हो सकती है।

ताजा पश्चिमी विक्षोभ के चलते जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में 4 और 6 नवंबर को हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी की संभावना है। वहीं, उत्तराखंड में भी 6 नवंबर को बारिश या बर्फबारी हो सकती है। पंजाब में कुछ स्थानों पर 5 और 6 नवंबर को बारिश के आसार हैं।

इन हिस्सों में होगी बारिश

IMD ने बताया कि नवंबर के दौरान देश के अधिकांश हिस्सों में सामान्य से लेकर सामान्य से कम अधिकतम तापमान रहने की संभावना है। केवल पूर्वोत्तर और उत्तर-पश्चिम भारत के कई हिस्सों में और पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में सामान्य से अधिक अधिकतम तापमान हो सकता है। साथ ही भारत के ज्यादातर हिस्सों में सामान्य से अधिक न्यूनतम तापमान रह सकता है।