भारत के कई इलाकों में बारिश और ठंड का कहर लगातार कहर बढ़ता जा रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने के आदेश भी जारी कर दिए गए है। वही रविवार को मौसम विभाग ने कई राज्यों में भारी बारिश और हिमपात की चेतावनी जारी कर दी है। इसी के साथ कुछ जिलों में तापमान माइनस डिग्री के आसपास मडरा रहा है। इससे स्थानीय लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

इन राज्यों में हो रही है बूंदाबांदी

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ सहित राजस्थान और गुजरात के कुछ हिस्से में हल्की बूंदाबांदी देखने को मिल सकती है। पर्वतों पर हिमपात जारी रहेगा। मौसम विभाग के मुताबिक पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार में घना कोहरा छाया रहेगा। इसके साथ ही न्यूनतम तापमान में गिरावट और शीतलहर का पूर्वानुमान जारी किया गया है।

48 घंटे का ऑरेंज अलर्ट

राष्ट्रीय राजधानी में लगातार तापमान निचे गिरता जा रहा है। वही रात का तापमान 1 से 3 डिग्री के आसपास बना हुआ है। 48 घंटे के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। दिल्ली का तापमान खर्च कर 3 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। वहीं सीजन का सबसे ठंडा दिन रिकॉर्ड किया गया है। 2 साल के रिकॉर्ड तोड़ने के साथ ही 2021 में न्यूनतम तापमान 1.1 डिग्री सेल्सियस था।

कड़ाके की ठंड का पूर्वानुमान जारी करते हुए मौसम विभाग द्वारा ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया। वहीं पश्चिमी विक्षोभ को इसका मुख्य कारण बताया जा रहा है। 12 जनवरी तक दिल्ली में सर्दी का कहर जारी रहेगा।

बर्फीली हवा का असर

उत्तर प्रदेश के कानपुर में भीषण ठंड के साथ ही सत्यापन में गिरावट का सिलसिला जारी है। 6 जनवरी को सीजन की सबसे ठंडी रात थी। अभी साल में ऐसी ठंडी पढ़ने के साथ ही तापमान में गिरावट की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग की माने तो ठंड में अभी और इजाफा होगा। हालांकि धीरे-धीरे धूप निकलने से लोगों को थोड़ी राहत मिलेगी।

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो उत्तर पश्चिमी हवाएं चलने से पहाड़ों से आ रही बर्फीली हवा का असर दिख रहा है। जिसके कारण कब काफी बढ़ गई है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता 4 दिनों तक बनी रहेगी 4 दिन के बाद थोड़ी राहत मिलने की संभावना है।

राजस्थान में 1 डिग्री सेल्सियस तापमान

राजस्थान में चुरू में एक बार फिर से तापमान 0 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। पिलानी को दूसरा सबसे ठंडा शहर रिकॉर्ड किया गया है। ठंड में अभी और इजाफा होने की संभावना जताई गई है। करौली में न्यूनतम तापमान 1.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जबकि सीकर में तापमान 1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

इसके साथ ही राजस्थान और गुजरात के कई क्षेत्रों में शीतलहर और कोहरे का अलर्ट जारी कर दिया गया है। रविवार को जारी मौसम के आंकड़ों के अनुसार चुरू को राजस्थान का सबसे ठंडा शहर रिकॉर्ड किया गया है। इसके अलावा झुंझुनू को भी सबसे ठंडा शहर माना गया है। वनस्थली और अंता में भी तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है।

बिहार में पछुआ हवा का प्रभाव

बिहार में बर्फीली पछुआ हवा से ठंड और अधिक बढ़ गई है। रविवार को गया में न्यूनतम तापमान 2 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। हाल के वर्षों में गया और का सर्वाधिक न्यूनतम तापमान रिकॉर्ड किया गया। इसके अलावा भागलपुर पटना मुजफ्फरपुर पूर्णिया दरभंगा सुपौल फारबिसगंज मोतिहारी में भीषण शीतलहर की चेतावनी जारी कर दी गई है जबकि छपरा में भी कोल्डवेव जारी किया गया। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो अगले सप्ताह के मौसम का पूर्वानुमान जताया है। 1 सप्ताह की ठंड के बाद लोगों को राहत मिलने की उम्मीद है।

पर्वतों पर हिमपात

जम्मू कश्मीर गिलगित बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद के ऊपरी इलाके में हल्की बारिश के साथ बर्फबारी जारी है। इसके अलावा पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर पाकिस्तान और जम्मू और कश्मीर क्षेत्र पर बने रहने की वजह से इसका असर देखने को मिल रहा है। अब 10 जनवरी तक पश्चिमी हिमालय पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ हिमपात की संभावना जताई गई है।

वही लद्दाख जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी के लिए 10 जनवरी को पश्चिमी हिमालय पर पहुंचने वाले पश्चिमी विक्षोभ का भयानक असर रहेगा। इसके अलावा उत्तराखंड में भी भारी बर्फबारी देखने को मिलेगी।

मौसम विभाग का अलर्ट जारी

राजस्थान हरियाणा चंडीगढ़ दिल्ली में शीतलहर को देखते हुए रेड अलर्ट जारी किया गया है।
उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश के कुछ ऐसे और पंजाब, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड उड़ीसा के अलग-अलग हिस्से में 5 दिन तक शीतलहर की स्थिति की भविष्यवाणी करते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

कोहरे और धुंध की चेतावनी जारी करते हुए उत्तराखंड, राजस्थान, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, त्रिपुरा के अलग-अलग इलाकों में घने कोहरे का रेड अलर्ट जारी किया गया लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है जब कि त्रिपुरा और अलग-अलग इलाकों में घना कोहरा छाया रहेगा।