खांसी से छुटकारा पाना है तो अपनाएं ये देसी दवा, इस तरह बनाएं घर में

बारिश का मौसम ऐसा है जो अक्सर अपने साथ कई बीमारियां लेकर आता है इस मौसम में भले ही गर्मी से राहत जरूर मिलती हो या फिर तापमान कम रहता हो लेकिन परेशानियां गंभीर रूप ले सकती हैं।

0
खांसी

बारिश का मौसम ऐसा है जो अक्सर अपने साथ कई बीमारियां लेकर आता है। इस मौसम में भले ही गर्मी से राहत जरूर मिलती हो या फिर तापमान कम रहता हो लेकिन परेशानियां गंभीर रूप ले सकती हैं। इन्हीं समस्याओं में से एक है गले की खराश यानि खांसी। इस परिस्थिति में गले में दर्द, खुजली और कफ जम जाता है, जिसके कारण न तो कुछ खाने का मन करता है और न ही पीने का। मालूम सी पड़ने वाली ये समस्या लोगों के लिए काफी तकलीफदेह साबित हो सकती है अगर इसका समय पर उपचार न कराया जाए तो। गले की खराश गले में सूजन, बोलने में दर्द और खाने-पीने में दिक्कत का कारण बन सकती है। अगर आप भी ऐसी किसी समस्या से जूझ रहे हैं तो हम आपको ऐसे घरेलू उपचार के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपको गले की खराश से राहत दे सकते हैं।

खांसी की देसी दवाई बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

हल्दी – एक चुटकी
अदरक – 1/2 इंच
तुलसी के पत्ते – 4-5
पानी – 1 कप
शहद – 1 चम्मच
मुलेठी – इच्छाअनुसार

खांसी की देसी दवाई बनाने की विधि
सबसे पहले एक बर्तन में पानी गर्म कर लें। इसके बाद इसमें हल्दी, तुलसी के पत्ते डाल कर इसे तब तक उबालें जब तक यह उबल-उबल कर आधा न रह जाए। अब इसे गैस से उतार लें और इसमें शहद मिला दें। अगर गले में खराश बहुत ज्यादा है, तो इसमें मुलेठी भी मिला लें।

  • अगर आप पिछले कई दिनों से गले की खराश से परेशान हैं तो रात को सोने से पहले मुलेठी की छोटी-सी गांठ मुंह में रखकर कुछ देर तक चबाएं। चबाने के अलावा आप इसका चूर्ण बनाकर गुनगुने पानी से साथ भी ले सकते हैं। नियमित रूप से कुछ दिनों तक ऐसा करने से गले का दर्द और सूजन दोनों ही खत्म हो जाएगी।
  • खांसी के इलाज के लिए तुलसी बहुत कारगर देसी नुस्खा है जो से बचाव रखता हैं। तुलसी की पत्तियां चबाने से कोल्ड और फ्लू दूर रहता है। खांसी होने पर इसकी पत्तियां (प्रत्येक 5 ग्राम) पीसकर पानी में मिलाएं और काढ़ा तैयार करें और पीएं। आप तुलसी अदरक वाली चाय भी पी सकते हैं।
  • सुबह-सुबह सौंफ चबाने से बंद गला खुल जाता है और आपको गले में खराश की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। सौंफ को चबाने के अलावा आप इसका काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं।
  • दो चम्मच अदरक का रस और दो चम्मच शहद के मिश्रण पीने से खांसी, कफ, गले में खराश और सूजन जैसी समस्या समाप्त होती है।
  • गुनगुने पानी में नींबू को निचोड़कर पीने से सर्दी और खांसी में आराम मिलता है। एक गिलास उबले हुए पानी में एक नींबू और शहद मिलाकर रात को सोते समय पीने से खांसी ठीक होती है। पका हुआ नींबू लेकर उसका रस निकाल लीजिए, इसमें शुगर डालकर इसे गाढ़ा बना लें, इसमें इलायची का पाउडर मिलाकर इसका सेवन करें।