हैदराबाद: मदद के नाम पर युवती से फिर दरिंदगी, ऑटो ड्राइवर फरार

शहर के नामपल्ली इलाके में एक लॉज में ऑटो ड्राईवर ने 8 दिसंबर की रात युवती से रेप किया। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है।

0
70

हैदराबाद: तेलंगाना की राजधानी में हुए डॉ दिशा के साथ दुष्कर्म और हत्या का मामला अभी शांत ही नहीं हुआ कि एक और मामला सामने आ गया है। यहां एक 18 वर्षीय युवती के साथ मदद के नाम पर रेप किया गया। दरअसल, पीड़िता अपनी 10 साल की बहन के साथ जा रही थी। इस दौरान वह रास्ता भूल गई। ऑटो चालाक ने मदद के नाम पर लड़की से यौन उत्पीड़न किया।

शहर के नामपल्ली इलाके में एक लॉज में ऑटो ड्राईवर ने 8 दिसंबर की रात युवती से रेप किया। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। इससे पहले हैदराबाद की डॉ दिशा के साथ मदद के नाम पर दरिंदगी हुई थी। डॉ दिशा के साथ हुई दरिंदगी के बाद देशभर में गुस्सा था।

इस मामले में पुलिस ने चार केस दर्ज कर चारो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। इस दौरान जब पुलिस क्राइम सीन रिक्रिएट करने के लिए आरोपियों को घटनास्थल पर लेकर गई तो आरोपियों ने पुलिस पर हमला कर दिया। इस समय हुए एनकाउंटर में पुलिस ने चारों आरोपियों को ढेर कर दिया।

इसके बाद तेलंगाना पुलिस के इस एनकाउंटर पर सवाल उठे और मामले में सुप्रीम कोर्ट व तेलंगाना हाईकोर्ट में याचिकाएं लगाई गईं। सुप्रीम कोर्ट ने एनकाउंटर की जांच के लिए आयोग गठित करने का आदेश दिया। यह आयोग सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायमूर्ति वीएस सिरपुरकर के नेतृत्व में गठित करने का आदेश दिया गया है। इस जांच आयोग में बॉम्बे हाईकोर्ट की पूर्व न्यायमूर्ति रेखा सोनदुर बालदोता और पूर्व सीबीआई डायरेक्टर डीआर कर्तिकेयन को शामिल किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here