इंदौर में आज से शुरू हुए प्रवासी भारतीय सम्मेलन के लिए एयरपोर्ट पर विशेष तैयारियां की गई हैं। मेहमानों लिए रेड कार्पेट बिछाया गया है, वहीं सामान्य यात्रियों की निकासी के लिए बिजासन रोड पर एक नया निकासी गेट बनाया गया है वहीँ रोड और पास ही पार्किंग भी बनाई गई है। एयरपोर्ट पर प्रवासी मेहमानों का तो खूब सम्मान किया जा रहा है, लेकिन आम यात्रियों को नई व्यवस्था से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। यात्रियों को अपना सामान लेकर पैदल बाहर निकलना पड़ रहा है। कई यात्रीयो ने इसे लेकर नाराजगी भी जाहिर की हैं।

एयरपोर्ट और साढ़े सात करोड़ से ज्यादा का सौंदर्यीकरण

प्रवासी भारतीय सम्मेलन और ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट के चलते इंदौर एयरपोर्ट पर भी साढ़े सात करोड़ से ज्यादा के सौंदर्यीकरण और विकास कार्य किए गए हैं। इसमें एयरपोर्ट से नया एक्जिट गेट, रोड और पार्किंग भी शामिल हैं। यह गेट टर्मिनल के सामने की बाउंड्रीवाल को तोडक़र बिजासन रोड की ओर बनाया गया है। एयरपोर्ट परिसर से बिजासन रोड को जोडऩे के लिए एक रोड भी बनाया गया है और इसके आसपास ही अस्थायी पार्किंग भी तैयार की गई है। कार्यक्रम के दौरान आने वाले मेहमानों के जाने के लिए मौजूदा रोड का ही इस्तेमाल होगा, वहीं आम यात्रियों को नए रास्ते से निकलना होगा।

रविवार सुबह लकागु हुई नई व्यवस्था

इस व्यवस्था को रविवार सुबह से ही लागू किया गया है। आम यात्रियों के वाहनों को भी बाहर ही पार्क करवाया जा रहा है। इसके कारण यात्रियों को लेने आने वाले वाहन नए गेट के पास ही खड़े करवाए जा रहे हैं और यात्रियों को यहां तक पैदल चलकर आना पड़ रहा है। इसके चलते आज सुबह से ही बाहर से आने वाले यात्री अपना सामान उठाकर पैदल नए गेट तक चलकर आते नजर आए। इससे बुर्जुग यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। अधिकारियों का कहना है कि यात्रियों के पीकअप की व्यवस्था पहले की तरह ही लागू है, इसलिए वाहन उन्हें लेने टर्मिनल बिल्डिंग तक आ सकते हैं। उन्हें यहां पार्क होने से रोका जा रहा है, लेकिन पहले से आने वाले वाहन बाहर पार्क हो रहे हैं और यात्रियों को वहां तक पैदल ही जाना पड़ रहा है।

वीवीआईपी को देखते हुए की गई कड़ी सुरक्षा

प्रवासी भारतीय सम्मेलन और इंवेस्टर्स समिट में दुनिया के 70 से ज्यादा देशों से मेहमान आ रहे हैं। कार्यक्रम में दूसरे देशों से राष्ट्राध्यक्ष और भारत की राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री सहित कई केंद्रीय मंत्री भी शामिल होंगे। इसे देखते हुए एयरपोर्ट पर विशेष सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। यहां की सुरक्षा का जिम्मा सीआईएसएफ के साथ ही एसपीजी ने भी संभाल लिया है। इसके कारण बाहर से आने वाले हर यात्री और वाहन की विशेष जांच भी की जा रही है। इसके कारण भी यात्रियों को ज्यादा समय देना पड़ रहा है। टर्मिनल बिल्डिंग से बाहर आने के लिए भी आम यात्रियों के लिए अलग गेट और मेहमानों के लिए अलग गेट की व्यवस्था लागू की गई है।