मार्च में बनकर तैयार होगा मप्र का सुविधायुक्त सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल

0

इंदौर में अत्याधुनिक सुविधा से युक्त मध्यप्रदेश के सबसे बड़े शासकीय सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का निर्माण कार्य मार्च माह के अंत तक पूरा हो जायेगा। लगभग 237 करोड़ रूपये से अधिक की लागत से निर्माणाधीन इस हॉस्पिटल का अधिकांश निर्माण कार्य पूरा हो गया है। संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने आज इस अस्पताल के निर्माण कार्य का निरीक्षण करते हुये शेष कार्य को तेज गति से समय-सीमा में पूरा करने के निर्देश दिये।

इस अवसर पर महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. ज्योति बिंदल तथा डॉ. ए.डी. भटनागर विशेष रूप से मौजूद थे। बताया गया कि यह हॉस्पिटल दस मंजिला बनाया जा रहा है। इसमें बेसमेंट और ग्राउंड फ्लोर शामिल है। यह हॉस्पिटल अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त रहेगा। इसमें अत्याधुनिक सुविधाओं वाले छ: आईसीयू और 10 ऑपरेशन थियेटर होंगे। हॉस्पिटल में नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, ह्दय शल्य क्रिया, बायपास, ह्दय रोग संबंधी अन्य उपचार, न्यूरोलॉजी, न्यूरो सर्जरी आदि की विशेष व्यवस्था रहेगी। यहां अंग प्रत्यारोपण की सुविधा भी होगी। यहां सभाकक्ष, लाईब्रेरी, क्लास रूम, कैन्टिन, कैफेटेरिया, आदि भी रहेंगे। बताया गया कि मुख्य रूप से हॉस्पिटल के सिविल वर्क में लगभग 140 करोड़ रूपये खर्च हो रहे है। हॉस्पिटल में 66 करोड़ रूपये उपकरण और अन्य सुविधाओं के विकास में खर्च होंगे। यह हॉस्पिटल कुल 501 बिस्तरों वाला रहेगा।

संभागायुक्त ने निर्माणाधीन इस हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। उन्होंने हॉस्पिटल के प्रत्येक मंजिल पर पहुंचकर निर्माण कार्य देखें। उन्होंने हॉस्पिटल के विद्युतिकरण का कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देश दिये कि हॉस्पिटल के बाधक अतिक्रमणों को शीघ्र हटाया जाये। उन्होंने कहा कि इस हॉस्पिटल में वह सभी सुविधायें रहे जो किसी निजी क्षेत्र के बड़े हॉस्पिटलों में रहती है।