गोबर धन प्लांट का लोकार्पण कल, आयुक्त प्रतिभा पाल ने किया कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण

इंदौर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) की वेस्ट-टू-वेल्थ की अवधारणा को साकार करने तथा स्वच्छता के क्षेत्र में नवाचार के उद्देश्य से नगर निगम, इन्दौर द्वारा गीले कचरे के निपटान हेतु 550 मैट्रिक टन प्रतिदिन क्षमता के बायो सी.एन.जी प्लांट(Bio CNG Plant) को स्थापित किया गया है।

आयुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत देवगुराडिया ट्रेंचिंग ग्राउंड में निर्मित 550 टीपीडी गोबर धन प्लांट(Gobar Dhan Plant) का देश के यशस्वी प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी, माननीय राज्यपाल श्री मंगू भाई पटेल, मुख्यमंत्री माननीय श्री शिवराज सिंह चौहान के कर कमलों से दिनांक 19 फरवरी 2022 शनिवार को दोपहर 12:00 बजे लोकार्पण किया जाएगा।

must read: MP में बनी नई स्टार्टअप पॉलिसी, सांसद शंकर लालवानी के सुझावों को मिली अहमियत

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार श्री हरदीप सिंह पुरी, राज्य मंत्री आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार श्री कौशल किशोर, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री मध्य प्रदेश शासन श्री भूपेंद्र सिंह, ग्रह एवं प्रभारी मंत्री श्री नरोत्तम मिश्रा, जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, पर्यटन संस्कृति अध्यात्म विभाग मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, नगरीय विकास एवं आवास राज्य मंत्री श्री ओ पी एस भदौरिया के विशेष आतिथ्य एवं सांसद श्री शंकर लालवानी, इंदौर विकास प्राधिकरण अध्यक्ष श्री जयपाल सिंह चावड़ा, विधायक गण एवं अन्य जनप्रतिनिधियों एवं वरिष्ठ जनों की गरिमामय उपस्थिति में संपन्न होगा।

कार्यक्रम स्थल बैठक व्यवस्था के साथ ही गेट नंबर 2 के सामने रहेगी वाहन पार्किंग की व्यवस्था

आयुक्त पाल द्वारा देवगुराडिया स्थित बायो गोबर धन प्लांट एवं कार्यक्रम स्थल का विभागीय अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया गया। आयुक्त द्वारा कार्यक्रम स्थल के निरीक्षण के दौरान मंच पर बैठक व्यवस्था एवं अन्य अतिथियों की बैठक व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था के साथ ही कार्यक्रम स्थल, बायो सीएनजी प्लांट एवं आसपास के क्षेत्र का निरीक्षण करते हुए आवश्यक व्यवस्थाओं के संबंध में अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गए।

इसके साथ ही गोबर धन प्लांट लोकार्पण समारोह में आने वालो के लिए ट्रेंचिंग ग्राउंड के गेट नंबर 2 के सामने चार पहिया वाहन एवं दोपहिया वाहनों हेतु पार्किंग की व्यवस्था भी की गई है।