इंदौर। संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा ने इंदौर संभाग के जिलों के कलेक्टर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक ली। बैठक में आई जी राकेश गुप्ता भी उपस्थित थे। इस अवसर पर उन्होंने मुख्य रूप से राजस्व प्रकरणों के निराकरण, विकास कार्यों की प्रगति तथा विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की।

बैठक में कानून व्यवस्था की भी जिलेवार समीक्षा की गई। इस बैठक में इंदौर के एनआईसी कक्ष से कलेक्टर मनीष सिंह तथा नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल भी शामिल हुई। बैठक में संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा ने भू-माफियाओं से मुक्त कराई गई भूमि के उपयोग एवं सुराज योजना के क्रियान्वयन के लिए की जा रही तैयारियों की सभी कलेक्टरों से जानकारी ली। इस अवसर पर उन्होंने निर्देश दिए कि राज्य शासन द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों के अनुसार इस योजना का प्रभावी क्रियान्वयन करें और संबंधित हितग्राहियों को अधिक से अधिक लाभ प्रदान करें।

Also Read: लड़कियों को देखने के लिए कैसे दीवार फांद कर जाते थे बिग बी, KBC में सुनाया ये किस्सा

इस अवसर पर उन्होंने आरसीएमएस पोर्टल पर लंबित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन सहित अन्य राजस्व प्रकरणों के निराकरण की भी समीक्षा की। समीक्षा के दौरान उन्होंने निर्देश दिये कि एक और 2 वर्ष से अधिक अवधि के लंबित राजस्व प्रकरणों को प्राथमिकता से निराकृत किया जाये। सभी कलेक्टर्स अपने स्तर से भी नियमित रूप से राजस्व प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा करते रहे। सीएम हेल्प लाईन के प्रकरणों का निर्धारित समयावधि में सकारात्मक निराकरण सुनिश्चित किया जाये।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की ग्रेडिंग की जिलेवार समीक्षा भी बैठक में की गई। इस दौरान उन्होंने कोरोना वैक्सीनेशन के सेकंड डोज एवं बूस्टर डोज लगाने के कार्य की प्रगति की भी जानकारी ली। बैठक में उन्होंने आयुष्मान कार्ड बनाने के कार्य की प्रगति, सीएम राइज स्कूलों के निर्माण कार्यों की प्रगति, छात्रावासों, आश्रमों तथा हायर सेकेण्डरी स्कूलों में मरम्मत और अन्य लघु निर्माण एक जिला एक उत्पाद, अंकुर अभियान आदि की समीक्षा भी की।

बैठक में बांधों एवं तालाबों के निरीक्षण के संबंध में भी चर्चा की गई। इस दौरान बताया गया कि इन्दौर संभाग में दिये गये दिशा-निर्देशो के अनुसार लगभग सभी बांध एवं तालाबों का निरीक्षण कर लिया गया है। संभागायुक्त डॉ. शर्मा ने निर्देश दिये कि बांध एवं तालाबों की स्थिति पर सतत निगरानी रखी जाये। साथ ही अतिवर्षा बाढ़ एवं राहत कार्यों की जानकारी भी संबंधित जिला कलेक्टरों से प्राप्त की गई। संभागायुक्त डॉ. शर्मा ने निर्देश दिये‍ कि वन अधिकार अधिनियम के तहत लंबित प्रकरणो का त्वरित निराकरण किया जाये। अंकुर अभियान के तहत इन्दौर संभाग में उत्कृष्ट कार्य हुये हैं। इस अभियान को इसी गति से आगे भी जारी रखा जाये।

बैठक में संभागायुक्त डॉ. शर्मा और आईजी गुप्ता ने सभी कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों से आगामी त्यौहारों के दौरान की जाने वाली व्यवस्थाओं की जानकारी ली। इस अवसर पर आगामी त्यौहारों को देखते हुए कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिये भी निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये गये। इस दौरान निर्देश दिये गये कि बगैर अनुमति के आयोजन नहीं होने देवें। सीसीटीवी के माध्यम से भी निगरानी की व्यवस्था रखी जाये। गणेश उत्सव एवं अन्य चल समारोह के दौरान विशेष सावधानी बरती जाये, निगरानी एवं सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रखें जाये।