MP भ्रष्टाचार पर पूर्व सीएम ने शिवराज सरकार पर कसा तंज, बोले जितना लूट सके लूट लो

शिवराज सरकार में आज अत्याचार पर छूट है ,भ्रष्टाचार पर छूट है।यह जान चुके हैं कि इनके आखरी 12-13 माह बचे हैं ,जितना लूट सके लूट लो।

मध्यप्रदेश में बीते कई दिनों से लगातार शिवराज सरकार का भ्रष्टाचार सामने आ रहा हैं। जिसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कई सवालों के घेरे में घिर चुकि है। इन भ्रष्टाचारों को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक प्रेंस कांफ्रेंस की है। इस दौरान उन्होंने मौजूदा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि, आज भ्रष्टाचार, कुपोषण और कार्यवाही की बात करें तो हर बात में इनकी सच्चाई सामने आ रही है और शिवराज सरकार में आज अत्याचार पर छूट है ,भ्रष्टाचार पर छूट है। ऐसे कई आरोप लगाए है।

ये बोले PC में कमलनाथ

  • शिवराज सरकार में आज भ्रष्टाचार की बात करें,कुपोषण की बात करें ,कार्यवाही की बात करें , हर बात में इनकी सच्चाई सामने आ रही है और शिवराज सरकार में आज अत्याचार पर छूट है ,भ्रष्टाचार पर छूट है।यह जान चुके हैं कि इनके आखरी 12-13 माह बचे हैं ,जितना लूट सके लूट लो।
  • आज सरकार का फोकस आदिवासी समाज को बांटने का है।जो आदिवासी समाज हमेशा से ही एक रहा है , वह एक नहीं रहे ,यह आज भाजपा का लक्ष्य है।
  • वह एक तरफ इवेंट करती है और दूसरी तरफ आदिवासी समाज को बांटने का काम भी कर रही है।
  • आदिवासी समाज की जो उपजातियां हैं ,उनके कई संगठन है , उनको यह पैसा , प्रलोभन देकर समाज को बांटने का प्रयास कर रहे हैं।
  • भाजपा का शुरू से प्रयास लोगों को बांटने का रहता है , कभी धर्म के नाम पर , कभी जाति के नाम पर।
  • आज यह चीता छोड़ रहे हैं लेकिन कुपोषण पर बात नहीं कर रहे हैं ,बेरोजगारी पर बात नहीं कर रहे हैं , यह आज प्रदेश के हालत है और यह जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं।
  • जो वास्तविक मुद्दे हैं ,जो आज प्रदेश और हर व्यक्ति के भविष्य से जुड़े हुए मुद्दे हैं , उससे आज ध्यान बांटने का काम हो रहा है।
  • हमारा श्योपुर जिला देश का सबसे ज्यादा कुपोषित जिला है ,इसके गवाह तो खुद सरकारी आंकड़े हैं।चीता तो यह एक माह बाद भी छोड़ सकते थे ,पहले यह कुपोषण दूर करने के लिए कैंप लगाते , कुपोषण दूर करने के उपाय करते लेकिन इन्हें तो चीता इवेंट करना था।
  • आज श्योपुर जिला कुपोषित के साथ-साथ सबसे गरीब जिला भी है और वहां के रहवासियो के भविष्य की इनको कोई चिंता नहीं और वहां जाकर यह लेक्चर दिया जा रहा है कि पर्यावरण के लिए यह सही है , यह सब नाटक आज चल रहा है।सरकार को कुपोषण को दूर करने को लेकर कार्य योजना बनानी चाहिये।
  • कायदे से तो वहाँ गिर के शेर आने चाहिये थे।जब मेरी सरकार थी ,जब मैं मुख्यमंत्री था ,तब मैंने इसको लेकर खूब प्रयास किए।मैंने इसको लेकर सरकार से बात भी की थी कि यहां पूरी तैयारी है ,आप गिर के शेर भेज दीजिए लेकिन उन्होंने शेर भेजने से मना कर दिया।
  • अब शेर तो भेजे नहीं गुजरात से , अफ्रीका से चीता ले आये ध्यान बांटने के लिये।
  • हम जनहित के मुद्दों पर लगातार आवाज उठा रहे हैं , आज की जनता समझदार हैं ,इनकी सच्चाई को देख रही है।
  • मध्यप्रदेश में मासूम बच्चियो से दुष्कर्म की लगातार घटनाएं घट रही है।आज अपराधियों के हौसले बुलंद है क्योंकि उन्हें पता है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है।
  • विधायक पांचीलाल मीणा के साथ हुए दुर्व्यवहार के सवाल पर कहा कि – आज पूरे प्रदेश का आदिवासी वर्ग अपने विधायक के साथ हुए दुर्व्यवहार के मामले को खुली आंख से देख रहा है कि किस प्रकार उनके साथ अशोभनीय घटना हुई।
  • भाजपा सिर्फ आदिवासियों के नाम पर इवेंट करती है ,सम्मेलन करती हैं,अधिकारियों को टारगेट देकर भीड़ बुलाई जाती है।
  • प्रदेश कांग्रेस प्रभारी जेपी अग्रवाल द्वारा कही गई बात के सवाल पर कहा कि – जब वे प्रदेश में प्रभारी बनने के बाद पहली बार आए तो मैंने ही उनसे आग्रह किया था कि उनको जिलों के दौरे करना चाहिए।उनका कहने का आशय कार्यकर्ताओं में उत्साह भरना है , मिशन 2023 की तैयारी करना है।जो कार्यकर्ता घर बैठे हैं ,उनको बाहर निकालना है।
  • हम आज जो भी निर्णय ले रहे हैं ,वह कांग्रेस के हित में ले रहे है।
  • कांग्रेस नेता अरुणोदय चौबे को दबाने के प्रयास कई महीने से चल रहे थे ,लगातार उनके बयान भी सामने आ रहे थे।इनके ऊपर किस प्रकार के प्रकरण लाद दिए गए थे।
  • कांग्रेस में आज जो भी हैं वह अपनी निष्ठा से हैं ,बगैर किसी दबाव के हैं।
  • आज हमारे लोगों पर झूठे केस लगाए जा रहे हैं ,दबाव प्रभाव की राजनीति की जा रही है।
    दबाव- प्रभाव से आप किसी का भी दिल , दिमाग़ और आत्मा नहीं ख़रीद सकते है।
  • कांग्रेस की कल की बैठक में पारित प्रस्ताव पर भाजपा द्वारा उठाए सवाल पर जवाब देते हुए कहा कि भाजपा बताए कि अमित शाह से लेकर नड्डा जी की नियुक्ति कैसे हुई ?