15 अप्रैल तक बिजली बिल पेनल्टी माफ : विकास नरवाल

0
vikas narwal

इन्दौर। कोरोना वायरस संक्रमण से रोकथाम के प्रयासों के साथ बिजली कम्पनी उपभोक्ताओं को सतत बिजली प्रदाय कर रही है। टोल फ्री कॉल सेंटर 1912 की उच्च स्तरीय मानिटरिंग प्रबंध निदेशक विकास नरवाल द्वारा की जा रही है। पिछले 24 घंटों में 1912 पर आई 1401 शिकायतों का निराकरण किया गया है। इसमें इन्दौर की 670, उज्जैन की 342, देवास 58, रतलाम 15, खंडवा 22, नीमच की 26, मंदसौर की 23 शिकायतों का बिजली कर्मचारियों ने मास्क पहनकर समाधान किया। इन्दौर मुख्यालय में संचालित टोल फ्री कॉल सेंटर 1912 के कर्मचारियों की संख्या में कमी की गई है, साथ ही उन्हें डेढ़ मीटर की दूरी पर बैठाया जा रहा है। बिजली कम्पनी ने लॉक डाउन, कर्फ्यू व अन्य कारणों से बिल नहीं भरने वालों की पैनल्टी भी 15 अप्रैल तक माफ कर दी है। इसके लिए सॉफ्टवेयर में बदलाव किया जा रहा है।
साढ़े 6 करोड़ यूनिट सप्लाय
मप्रपक्षेविविकं ने पिछले एक दिन में साढ़े 6 करोड़ यूनिट बिजली सप्लाय की है। इसमें इन्दौर जिले में 90 लाख यूनिट, उज्जैन में 66 लाख, खरगोन में 71 लाख, देवास में 56 लाख, रतलाम में 41 लाख, धार में 60 लाख यूनिट शामिल है।