वैक्सीन लगने से अब ऑफलाइन पढ़ाई रहेगी जारी और परीक्षाएं भी होगी

exam

भोपाल : कोविड-19 टीकाकरण होने के बाद पिछले वर्षों जैसे न तो लॉकडाउन के हालात बनेंगे और न ही पढ़ाई रूकेगी। उम्मीद है कि पहले की तरह हमारी कक्षाएँ ऑफलाइन लगेंगी और परीक्षा भी ऑफलाइन होंगी। कोविड टीकाकरण बहुत जरूरी है। सभी को कोविड टीका लगवाना चाहिए। कोविड-19 टीका लगवाने के बाद सुभाष स्कूल के 15 से 18 वर्ष आयु के बच्चों ने यह बातें कही।

प्रदेश में 15 से 18 वर्ष आयु के बच्चों के टीकाकरण का आज भोपाल में सुभाष उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शुभारंभ किया। बच्चों ने कोरोना का टीका लगवाने के बाद कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सभी को मुफ्त वैक्सीन उपलब्ध करवाई और मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश के सभी नागरिकों के लिए टीका लगवाने के लिए बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान चलाये। स्कूली बच्चों को टीका लगाने के अभियान में आज हम लोगों को टीका लग रहा है। सुभाष स्कूल में अध्ययनरत कक्षा 10वीं के छात्र अस्मित भार्गव ने कहा कि – “वह टीका लगवाकर प्रसन्न हैं।

” अस्मित ने बताया कि – “पिछले वर्ष लॉकडाउन लगने से स्कूल में ऑफलाइन कक्षाएँ नहीं लगी और परीक्षाएँ भी नहीं हुई। इससे उन्हें निराशा हुई थी। अब कोविड टीका लगने से कोरोना पर नियंत्रण रहेगा। ऑफलाइन क्लासेस भी लगेंगी और परीक्षाएँ भी होंगी।”

सुभाष स्कूल के ही कक्षा 11वीं के छात्र कार्तिक सिंह ठाकुर ने कहा कि – “वैक्सीन लगवाकर वह प्रसन्नता महसूस कर रहे हैं।” कार्तिक ने कहा कि – “सभी को कोरोना की वैक्सीन लगवाना चाहिए।” कक्षा 11 की छात्रा कुमारी रचना राजपूत ने वैक्सीन लगवाने के बाद कहा कि – “अब कोरोना नहीं फैलेगा और उनकी पढ़ाई बाधित नहीं होगी। समय पर ऑफलाइन परीक्षा होगी।”

सुभाष स्कूल के ही कक्षा 10वीं के छात्र पलाश बिरगैया और कुमारी प्रांजल यदुवंशी ने वैक्सीन लगने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि – “उन्हें अब नियमित कक्षाओं में पढ़ने को मिलेगा और परीक्षाएँ भी होंगी। सरकार का बच्चों को वैक्सीन लगवाने का निर्णय बहुत अच्छा है।” कोविड-19 वैक्सीन लगने से उत्साहित बच्चों ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के साथ सेल्फी पाईंट पर फोटो भी लिया।