Breaking News

सावन में ना पहने इस रंग के कपड़ें, वरना भोलेनाथ हो जाएंगे नाराज

Posted on: 14 Jul 2019 14:51 by Surbhi Bhawsar
सावन में ना पहने इस रंग के कपड़ें, वरना भोलेनाथ हो जाएंगे नाराज

बाबा भोलेनाथ को ऐसा देवता माना जाता है जो बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं और प्रसन्न होने पर सारी मुराद पूरी कर देते हैं। बाबा को सावन का महीना बेहद प्रिय होता है। इसी कारण से इस महीने में भक्त भगवान शिव की पूजा में लीन हो जाते हैं। लोगों का यह मानना है कि यदि कोई व्यक्ति इस महीने सच्चे दिल से भोलेबाबा की अराधना करता है तो उसकी हर मनोकामना बहुत जल्द पूरी होती है। इस महीने के साथ कुछ खास बातें भी जुड़ी हुई हैं। भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए इन बातों की जानकारी होना जरूरी है। जिस तरह इस इस महीने खाने-पीने की कई चीजों पर रोक होती है उसी तरह इस महीने पहने जाने वाले कपड़ों को लेकर भी कई तरह की मनाही होती है। इन मान्यताओं को जानना जरूरी है।

हिंदू धर्म में हरे रंग का महत्वपूर्ण स्थान

हिंदू धर्म में पूजा करने के कई नियम बताए गए हैं। इन नियमों के अनुसार पूजा करने पर व्यक्ति की मनोकामना जल्दी पूरी होती है तो वहीं ऐसा न करने पर उसके गलत परिणाम भी भुगतने पड़ सकते हैं। जिस तरह शास्त्रों में लाल रंग को हर शादीशुदा महिला के जीवन में खुशियां लाने वाला और सौभाग्य का प्रतीक माना जाता है। इसी तरह हरा रंग भी हिन्दू धर्म में काफी महत्वपूर्ण स्थान रखता है।

काले रंग का कपड़ा शिव पूजा में अशुभ

सावन के महीने में प्राय: औरतें हरी चूडिय़ां पहनती हैं। इसका कारण यह है कि ताकि उन्हें शिव जी का आशीर्वाद मिले और उनके पति की लंबी आयु हो। बाबा भोलेनाथ की पूजा में हरे या किसी भी अन्य रंग के कपड़े पहने जा सकते हैं, लेकिन इस दौरान जिस एक रंग को पहनना वर्जित माना गया है। यह रंग है काला रंग। शिव पूजा में काले रंग के कपड़ों को पहनना बहुत अशुभ माना जाता है।

मत पहनें काले रंग का कपड़ा

माना जाता है कि काला रंग भगवान शिव को बिल्कुल भी पसंद नहीं है। माना जाता है कि इस रंग को देखते ही बाबा नाराज हो जाते हैं। इसलिए यह बात ध्यान में जरूर रखनी चाहिए कि यदि आप शिव के प्रकोप से बचना चाहते हैं या फिर उनकी कृपा पाना चाहते हैं तो इस बात का विशेष ध्यान रखें कि पूजा करते समय काले कपड़ों से परहेज करें।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com