वैक्सीन की किल्लत को लेकर दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के बीच मामला लगातार तूल पकड़ता ही जा रहा है ये मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में आज यानी की शनिवार के दिन दिल्ली के मुख्यमंत्री प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने बताया है कि रविवार से दिल्ली में 18 से 44 साल के युवाओं का वैक्सीनेशन नहीं हो पाएगा, क्योंकि केंद्र की तरफ से वैक्सीन नहीं मिल रही है।

आगे उन्होंने कहा है कि कल से दिल्ली में युवाओं के वैक्सीनेशन सेंटर बंद हो जाएंगे, क्योंकि केंद्र से वैक्सीन नहीं मिली है। केंद्र से वैक्सीन मांगी गई है। जैसे ही वैक्सीन मिलेगी, दोबारा सेंटर खोलेंगे। दिल्ली को ढाई करोड़ वैक्सीन की जरूरत है। जून में 8 लाख वैक्सीन ही मिलेगी, ऐसा केंद्र की तरफ से कहा गया है।

अगर इसी गति से वैक्सीन मिली तो वैक्सीन लगाने में 30 महीने लग जाएंगे। इसके अलावा अरविंद केजरीवाल ने वैक्सीन की कमी दूर करने के लिए केंद्र को चार सुझाव भी दिए। इसमें उन्होंने कहा कि पहला, केंद्र सरकार वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों को 24 घंटे में बुलाए और वैक्सीन बनाने के निर्देश दे।

वहीं भारत में सभी विदेशी वैक्सीन के इस्तेमाल की तुरंत इजाजत दी जाए. विदेशी वैक्सीन के लिए केंद्र सरकार बातचीत करे और भारत के राज्यों में वैक्सीन बांटें। इसके अलावा कई देशों ने वैक्सीन स्टॉक की है, उनसे वैक्सीन मंगवाने के लिए केंद्र सरकार गुजारिश करे। फिर चौथा, विदेशी कंपनियों को भारत में वैक्सीन बनाने की अनुमति दी जाए।