दिल्ली विश्वविद्यालय ने ग्रेजुएशन की बढ़ाई फीस, नए एकेडमिक सेशन में जोड़े कई सेक्शन

दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा डवलपमेंट फंड की फीस करीब 600 रुपये से बढ़ाकर 900 रुपये हो गई है। तो वहीं इकोनॉमिकली विकर सेक्शन सुपोर्ट यूनिवर्सिटी फंड की फीस में भी 100 रुपये की बढ़ोतरी की गई है।

दिल्ली विश्वविद्यालय ने अपने अंडरग्रेजुएट कोर्स की फीस बढ़ाने का फैसला लिया है। अब शैक्षणिक सत्र 2022-23 से अपने एकेडमिक सेशन में नए सेक्शन जोड़े गए है। जिसमें अब स्टूडेंट्स की फीस में 400 रुपये तक की बढ़ोत्तरी होगी। हालांकि यह फैसला आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग सहायता कोष, विश्वविद्यालय सुविधाओ और कई दूसरी चीजों को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। यूनिवर्सिटी ने नोटिफिकेशन जारी किया, जिसमें सेशन की फीस में करीब 400 रुपये बढ़ाने की तैयारी कर रही है।

दिल्ली विश्वविद्यालय का कहना है कि फीस में वृद्धि ज्यादा हद तक नहीं की जाएगी। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का सहयोग विश्वविद्यालय निधि को शुक्ल में जोड़ा गया है, इसके तहत हर स्टूडेंट को करीब 100 रुपये देने होंगे। फीस स्ट्रक्चर में नए सेक्शन जोड़े गए है। दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ एग्जीक्यूटिव के अनुमान के अनुसार छात्र के लिए वार्षिक शुल्क में भी करीब 1000 रुपये बढ़ाये जा सकते है।


फीस स्ट्रक्चर में यूनिवर्सिटी ने नए कोर्स जोड़े है। जिसमें यूनिवर्सिटी फैसिलिटीज एंड सर्विसेज चार्जेज, इकोनॉमिकली विकर सेक्शन स्पोर्ट यूनिवर्सिटी फंड, यूनिवर्सिटी स्टूडेंट वेलफेयर फंड जैसे नए सेक्शन जोड़े गए है। तो वही दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा डवलपमेंट फंड की फीस करीब 600 रुपये से बढ़ाकर 900 रुपये हो गई है। तो वहीं इकोनॉमिकली विकर सेक्शन सुपोर्ट यूनिवर्सिटी फंड की फीस में भी 100 रुपये की बढ़ोतरी की गई है।

Must Read- आईटीआर भरने की आखिरी तारीख आज, जाने कैसे भरे टेक्स

यूनिवर्सिटी ने एक नोटिफिकेशन जारी की है जिसमे दाखिले के लिए फीस में हुए कई फेरबदल की जानकरी दी है। सभी जगह फीस स्ट्रक्चर एक जैसा हो इस बात का भी ध्यान रखा जाएगा और जारी किया गया नया फीस स्ट्रक्चर एकेडमिक सेशन 2022-23 से लागू होगा। हालांकि यूनिवर्सिटी ने ट्यूशन फीस और डीयूएसयू के फंड में कोई बदलाव नहीं किया है।