कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल कर सकते हैं। पार्टी सूत्रों ने यह जानकारी दी है। सूत्रों ने बताया कि दिग्विजय सिंह बुधवार रात दिल्ली पहुंचेंगे और वह बृहस्पतिवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात भी कर सकते हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सांसद शशि थरूर के बीच टक्कर मानी जा रही थी, वहीं अब मध्य प्रदेश के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह का भी नाम जुड़ गया है। पार्टी सूत्रों के अनुसार, उन्हें चुनाव लड़ने के निर्देश मिले हैं और वह 30 सितंबर को नामांकन दाखिल करेंगे।

कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए घोषित कार्यक्रम के अनुसार, अधिसूचना 22 सितंबर को जारी की गई और नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया 24 सितंबर से आरम्भ हुई, जो 30 सितंबर तक चलेगी। नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि आठ अक्टूबर है। एक से अधिक उम्मीदवार होने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा और नतीजे 19 अक्टूबर को घोषित किये जाएंगे।

वहीं अगर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के चुनाव लड़ते है तो इससे मुकाबला कड़ा हो जाएगा। वह दो बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं और गांधी परिवार के सबसे वफादार नेताओं में शामिल है। वह हर मंच से RSS, भाजपा और हिंदुत्व के खिलाफ मुखर रहे हैं। इसी तरह उनके पास लंबा संगठनात्मक और प्रशासनिक अनुभव है। हालांकि, अतीत में कई मौकों पर उनके बयान पार्टी के लिए मुसीबत बन चुके हैं। वर्तमान में उनके पास जनसमर्थन भी कम है। ऐसे में मुकाबला देखने लायक होगा।

इससे पहले माना जा रहा था राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत चुनाव लड़ेंगे लेकिन राजस्थान में सियासी उनके नाम पर संशय खड़ा होने के बाद अध्यक्ष पद के लिए थरूर के अलावा पार्टी के दिग्गज नेता मुकुल वासनिक, मल्लिकार्जुन खड़गे, केसी वेणुगोपाल और दिग्विजय सिंह का भी नाम चल रहा था, लेकिन अब दिग्विजय सिंह को नाम सामने आया है।