चाइल्ड सेक्सुअल पोर्नोग्राफी (Child Sexual Pornography) के मामले में सीबीआई (Central Beuro of Investigation) के द्वारा बड़ी कार्यवाही की गई है । इंटरपोल के इनपुट के बाद देश के 20 राज्यो में 56 स्थानों पर छापेमारी जारी। इस कार्रवाई को सीबीआई ने ‘ऑपरेशन मेघदूत’ की संज्ञा दी है। सीबीआई के अनुसार चाइल्ड सेक्सुअल प्रोनोग्राफी के अपराध को अंजाम देने वाले कई गैंग देश के अलग-अलग राज्यों के विभिन्न इलाकों में सक्रिय है, जोकि चाइल्ड सेक्सुअल प्रोनोग्राफी के माध्यम से बच्चों को ब्लेकमेल करते हैं ।

Also Read-IMD Rainfall Alert : कई राज्यों में भारी बारिश से हाहाकार, इन प्रदेशों में बिजली गिरने से हुई 18 मौत, मौसम विभाग का जारी है अलर्ट

20 राज्यो में 56 स्थानों पर रेड

जानकारी के अनुसार सीबीआई को इंटरपोल के माध्यम से सिंगापूर से इस बड़े आपराधिक षड्यंत्र के इनपुट मिले थे। जिसके बाद सीबीआई ने सक्रियता दिखते हुए देशभर के करीब दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर, पटना सहित 20 राज्यों के 56 स्थानों पर छापेमारी की कार्यवाही की है। गौरतलब है कि गतवर्ष भी ऑपरेशन कार्बन के नाम से इन मामलों को लेकर अभियान चलाया गया था।

Also Read-PM Modi की पटना रैली थी निशाने पर, NIA की पूछताछ में PFI के गुर्गे ने किया खुलासा

सुप्रीम कोर्ट ने भी माना था गंभीर मामला

देश में लगातार बढ़ रहे चाइल्ड सेक्सुअल प्रोनोग्राफी के मामले काफी हैरान करने वाले और साथ ही चिंता बढ़ाने वाले हैं। इस मामले को सुप्रीम कोर्ट के द्वारा भी गंभीर अपराध माना गया है, इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट इसको लेकर अपनी चिंता भी जता चुका है। सीबीआई के अब इस मामले में ये बड़ी कार्यवाही निश्चित ही स्वागत योग्य कदम है और आशा की जा सकती है कि इन कार्यवाहियों के माध्यम से इस गंभीर अपराध के मामलों में यथासम्भव कमी आ सकेगी।