Breaking : भोपाल में बारिश से हाल बेहाल , मंत्री सारंग जलभराव क्षेत्र में मौजूद

मंत्री विश्वास सारंग ने मोर्चा संभालते हुए राहत एवं बचाव कार्य तेज किया है। इस दौरान खुद नाव में बैठकर लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया।

भोपाल में लगातार बारिश का दौर जारी है। ऐसे में नरेला विधानसभा के महामाई भाग एवं ऐशबाग में जलभराव बना हुआ है। मंत्री विश्वास सारंग ने मोर्चा संभालते हुए राहत एवं बचाव कार्य तेज किया है। इस दौरान खुद नाव में बैठकर लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। मंत्री सारंग ने लकवाग्रस्त मरीज को नाव से रेस्क्यू किया और उनकी जान बचाई।

इस दौरान नरेला विधानसभा स्थित हबीबिया स्कूल को राहत शिविर बनाया गया है। आपको बता दें कि शिविर में रहवासियों के रहने और खाने की व्यवस्था भी की गई है। मंत्री विश्वास सारंग स्वयं जलभराव के क्षेत्र में मौजूद है और व्यवस्थाओं पर खुद नजर बनाए हुए हैं।

Must Read- ठाट बाट से निकली बाबा महाकाल की शाही सवारी, कई रूपों में भक्तों को दर्शन देकर जाना प्रजा का हाल

हुजूर विधानसभा में आने वाले कोलार के पास बंदौरी गांव में किसान परिवार के कई लोग फंसे हुए हैं। इस दौरान रेस्क्यू ऑपरेशन भी शुरू किया गया है। एसडीआरएफ टीम एवं प्रशासन के साथ बंदौरी गांव में बचाव कार्य लगातार जारी है। इस दौरान विधायक रामेश्वर शर्मा भी मौके पर मौजूद है और सभी परिवारों को जल्द ही रेस्क्यू कर लिया जाएगा। कोलार थाना प्रभारी चंद्रकांत पटेल भी स्टाफ के साथ मौजूद है और रेस्क्यू कार्य में लगे हुए है।

भोपाल जिले में 56 घंटे से लगातार बारिश का दौर जारी है। इस दौरान 24 घंटे में करीब 14 इंच बारिश दर्ज हुई है। तवा डैम का डिस्चार्ज 3800 Cumecs को कम करके 2000 Cumecs तथा बरना डैम का डिस्चार्ज 8600 Cumecs से कम करके 4000 Cumecs कर दिया गया है। इस दौरान नर्मदा के खतरे के निशान से अधिकतम 3 से 4 फीट ही जल स्तर अधिक होने की स्थिति का वर्तमान में आकलन किया गया है। नर्मदापुरम के 4 गांवों में जल प्लावन की स्थिति बनी हुई है। इस दौरान गांव वासियों को भी सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है और रेस्क्यू की कार्यवाही भी लगातार की जा रही है। नर्मदा बेसिन में बांधो के पानी डिस्चार्ज का जलसंसाधन विभाग द्वारा लगातार आकलन किया जा रहा है। राजस्थान में बारिश से पार्वती नदी का जलस्तर बढ़ने पर भी निगाह रखी जा रही है।

खबर अपडेट की जा रही है…