BJP और AAP पार्टी के नेता आमने-सामने, दिल्ली स्कूलों को लेकर गरमाया मुद्दा

दिल्ली में शराब नीति के बाद अब स्कुल के मुद्दों पर बहस शुरू हो गई हैं। बुधवार को आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज और भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता गौरव भाटिया में जमकर बहस हुई।

दिल्ली में शराब नीति के बाद अब स्कुल के मुद्दों पर बहस शुरू हो गई हैं। बुधवार को आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज और भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता गौरव भाटिया में जमकर बहस हुई। दोनों पार्टीयों में बहस दिल्ली के नए स्कुलों को लेकर हुई थी। भाजपा प्रवक्ता गौरव कौटिल्य स्कुल पहुंचे तो उनके पिछे आप नेता सौरभ भी पहुंत गए। इसके बाद दोनो में स्कुल को लेकर बहस शुरू हो गई और दोनो नेताओं ने एक-दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाए। इस दौरान समर्थकों ने भी जमकर नारेबाजी की।

आखिर क्यों दोनों में हुई बहस

राजधानी दिल्ली में नए स्कूलों को लेकर मामला गरमाया था। भाजपा ने दावा किया कि आम सरकार ने अपने घोषणा पत्र में 500 नए स्कूल बनाने का वादा किया था। वही, बीजेपी का आरोपी है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सरकार ने एक भी नए स्कूल नही बनवाए है सिर्फ पुराने स्कूलों में नए कमरे बनाकर नए स्कूल बनाने का दावा किया जा रहा है। इसे लेकर एक टीवी डिबेट में गौरव भाटिया ने सौरभ भारद्वाज के साथ नए स्कूल देखने की चुनौती दी थी।

Also Read : Indore : हार्ट के Calcified ब्लॉकेज में काम देंगी ये नई तकनीकें, कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. अलकेश जैन ने दी जानकारी

इसी के मुताबिक, गौरव भाटिया इन नए स्कूलों का रियलिटी चेक करने पहुंचे थे। इस दौरान वहां आप विधायक सौरभ भारद्वाज भी आप कार्यकर्ताओं के साथ पहुंच गए। उन्होंने कहा कि हम आपको दिल्ली के स्कूलों में ले चलते हैं। इसके बाद दोनों नेताओं में बहस छिड़ गई. समर्थकों ने जमकर नारेबाजी भी की।

दोनो नेताओं ने लगाए आरोप प्रत्यारोप

भाजपा नेता गौरव भाटिया ने सोशल मीडिया पर वीडियो ट्वीट कर कहा कि, जैसा वादा किया था, 11 बजे मैं आप प्रवक्ता से 500 नए स्कूलों की सूची लेने कौटिल्य विद्यालय पहुंचा। लेकिन बार बार नए स्कूलों की लिस्ट मांगने पर भी आप प्रवक्ता ने नहीं दी। 2 पुराने स्कूलों को नया स्कूल बता दिया बाद में वे खुद कहने लगे कि अभी स्कूल बन रहा है। यहां झूठ पकड़ गया। उन्होंने कहा, कट्टर बेईमान अरविंद केजरीवाल का यही शिक्षा मॉडल है।

वहीं, आप नेता सौरभ भारद्वाज ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि, गौरव भाटिया ने चुनौती दी थी कि हम दोनों साथ में चलकर 500 स्कूलों का निरीक्षण करेंगे. लेकिन वे दो स्कूल देखकर भाग गए।