अगर आप भी मध्यप्रदेश में काम करते है तो ये खबर आपके काम की है। प्रदेश सरकार कर्मचारियों के लिए सरकार ने एक नई व्यवस्था लागू की है जिसके तहत बड़ा फायदा मिल सकता है। सरकार ने कर्मचारियों के लिए एक नई एप लांच की है जो लोकेशन के साथ साथ और कई महत्वपूर्ण कार्य भी करेगी।

सार्थक एप की ख़ास बात ये भी है कि इसके माध्यम से कर्मचारी कर्मचारी-अधिकारी छुट्टी के लिए भी आवेदन कर सकेंगे और मप्र शासन से किसी भी प्रकार का पत्राचार इस एप किया जा सकता है। इस एप को आप आसानी से अपने फ़ोन में डाउनलोड भी कर सकते है। एप के माध्यम से अब कर्मचारियों को पत्रचार करने संबंधी परेशानी नहीं उठानी पड़ेगी। इससे काम काम सरल और बेहद सुविधाजनक हो जाएगा।

Also Read : केंद्र सरकार का बड़ा एक्शन, BBC की डॉक्यूमेंट्री शेयर करने वाले ट्वीट ब्लॉक करने का दिया आदेश

इसके अलावा चिकित्सा विभाग ने भी सभी कर्मचारियों की अटेंडेंस मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से लगाने के निर्देश दिए है। कर्मचारियों का जीपीएस रिकार्ड रहेगा, जिससे डाक्टरों की उपस्थिति के साथ उनकी लोकेशन का भी पता चल जाएगा। बता दें 3 जनवरी को स्वास्थ्य आयुक्त ने आदेश जारी करते हुए एक सप्ताह में इसको पालन करने के लिए स्वास्थ्य अधिकारियों को कहा। जीपीएस आधारित सार्थक मोबाइल एप से ही अस्पतालों में चिकित्सकों और अन्य कर्मचारियों की उपस्थिति दर्ज की जाएगी। दरअसल, इस नियम को लागू करने के पीछे का कारण है कि बीतें कुछ समय से ओपीडी के समय डाक्टरों की अनुपस्थित रहने की शिकायतें लगातार मिलती रहीं है। जिसको लेकर सार्थक एप से निगरानी रखने का निर्णय लिया गया।