Toyota Kirloskar Motor (TKM), टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) के कस्टमर्स को नए वर्ष में यह जानकर धक्का लग सकता है कि उनका निजी डेटा (निजी जानकारी) इंटरनेट पर लीक हो गया है। कंपनी ने खुद इस बात की पुष्टि की है। हालांकि टोयोटा के कितने ग्राहकों की निजी जानकारी इंटरनेट पर लीक हुई है और इस डेटा में क्या-क्या विवरण शामिल हैं, फिलहाल इस बारे में अधिक स्पष्टीकरण नहीं हुआ है।

टोयोटा मोटर ने रविवार को कहा कि उसके भारतीय व्यवसाय में डेटा सिस्टम में सेंधमारी के कारण से कुछ कस्टमर्स की पर्सनल इनफार्मेशन एक्सपोज़ हो सकती है। टोयोटा इंडिया ने कहा कि उसने भारतीय ग्रुप किर्लोस्कर ग्रुप के साथ एक संयुक्त उद्यम टोयोटा किर्लोस्कर मोटर में डेटा में सेंधमारी के बारे में संबंधित भारतीय ऑफिसर्स को अवगत किया है। स्टेटमेंट के अनुसार घुसपैठ की सीमा की पुष्टि की जा रही है।

Also Read – Optical Illusion: बूझो तो जानें! यहां दिखाई गई तस्वीर में समुद्र में तैरते हुए खो गया हैं लड़के का जूता, क्या आप 10 सेकेंड में ढूंढ पाएंगे

TKM ने डेटा उल्लंघन के आधार या प्रभावित कस्टमर्स की संख्या का खुलासा किए बिना एक ईमेल स्टेटमेंट में कहा, “टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (TKM) को उसके एक सेवा अनुदाता के माध्यम से एक ऐसे वृत्तांत के बारे में सूचित किया गया है जिसने TKM के कुछ कस्टमर्स की पर्सनल इनफार्मेशन को इंटरनेट पर एक्सपोज़ किया जा सकता है।”

कंपनी ने कहा है कि उसने इलेक्ट्रॉनिक्स और इनफार्मेशन प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अंतर्गत सीईआरटी-इन (इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम) को इस घटना के बारे में जानकारी दे दी है।

कंपनी ने कहा, “इस इन्सीडेंट को ध्यान में रखते हुए टीकेएम अपने Service provider के साथ पालन किए जा रहे उपस्थित विस्तृत दिशानिर्देशों को और बढ़ाने के लिए काम करेगा और हमारे आदरणीय कस्टमर्स को किसी भी प्रकार की असुविधा से बचने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।” इससे पहले कंपनी ने पिछले साल अक्टूबर में बताया था कि टोयोटा मोटर की टी-कनेक्ट सर्विस में सशक्त रूप से कस्टमर्स की इनफार्मेशन का अधिकतर 296,000 विवरण लीक हो गया था।