प्रदेश में भर्ती परीक्षाओं को लेकर अब छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। प्रदेशभर से बड़ी संख्या में बेरोजगार युवा और छात्र रविवार को भोपाल पहुंचे। लेकिन प्रशासन द्वारा छात्रों को शहर में आने वाले भुरी जोड़, भदभदा चौराहे और लालघाटी समेत अन्य सीमाओं पर बैरिकेड्स लगाकर छात्राओं को रोक दिया गया।

जिसके प्रदर्शनकारियों को पुलिस घसीटकर ले गई, प्रदर्शन कर रहे छात्रों के साथ यूथ कांग्र के प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत भूरिया को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर पुलिस वैन में ले जाया गया। साथ ही लालघाटी पर बड़ी संख्या में छात्र सड़क पर बैठकर नारेबाजी करते नजर आए।

भर्तीसत्याग्रह कर रहे युवाओं के माध्यम से कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत प्रधानमंत्री पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज के युवाओं को सत्याग्रह करने की जरूरत क्या पड़ी है, उन्हें छला जा रहा है। आज देश और प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है।

सरकार रोजगार देने की जगह छलने का काम कर रही है। मुझसे युवा मिलने आए थे। मैंने उनका समर्थन किया। इसी मार्ग पर चलकर महात्मा गांधी के सामने आंग्रेजों ने घुटने टेके थे। जब 12 माह बाद हम सरकार बनाएंगे, तो वो आपकी सरकारी होगी। आपके सपने को पूरा करने के लिए हमारी सरकार वचनबद्ध होगी। आप बिना डरे और थके सत्य के मार्ग पर चलते रहें। उन्होंने छात्रों को भरोसा देते हुए कहा आपका कमलनाथ आपके साथ है।

Also Read: IMD Alert MP : मध्यप्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, शहर में औसत से अधिक हुई बारिश

आपको बता दें प्रदेश के 21 बड़े सरकारी विभागों में करीब एक लाख पद खाली पड़े हैं। इन सभी को भरा जाएगा। सरकार की कोशिश है कि विधानसभा चुनाव 2023 से पहले भर्ती प्रक्रिया पूरी हो जाए। प्रदेश के 21 बड़े सरकारी विभागों में 93,681 पद रिक्त होने की जानकारी सामने आई है। सबसे ज्यादा पद स्कूल शिक्षा और जनजाति विभाग में हैं। इन दोनों विभागों में 30 हजार पद रिक्त हैं। इसके अलावा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और स्वास्थ्य विभाग समेत दूसरे विभागों को मिला लिया जाए तो लगभग 1 लाख पदों पर सरकार भर्ती करने की तैयारी में है।