मध्य प्रदेश में मौसम विभाग ने 13 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग ने के संभाग के जिलों में भी रिमझिम बारिश की संभावना जताई है. मौसम विभाग के इस अलर्ट ने किसानों को परेशानी में डाल दिया है. किसानों को इन दिनों दोहरी मार का सामना करना पड़ रहा है.  मौसम विभाग के उपनिदेशक वेद प्रकाश सिंह ने बताया कि मध्य प्रदेश के 13 जिलों में आने वाले 24 घंटे में भारी बारिश की संभावना है. इनमें भिंड, मुरैना, श्योपुर कलां, ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी, आगर, राजगढ़, धार, अलीराजपुर, बड़वानी, झाबुआ और खरगोन जिला शामिल है. इन जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश की संभावना जताई गई है.

एमपी के कई जिलों से मानसून की विदाई हो गई है। वहीं, प्रदेश में अभी कुल चार सिस्टम एक्टिव हैं, जिसकी वजह से बारिश हो रही है। श्योपुर और ग्वालियर जिले के कुछ हिस्सों में बाढ़ की स्थिति है। शिवपुरी में बाढ़ के पानी में कुछ शुक्रवार की रात फंस भी गए थे, जिनका रेस्क्यू किया गया था। मौसम विभाग के अनुसार भोपाल में अक्टूबर महीने के कोटे से ज्यादा 2.70 इंच बारिश हुई है। यह महीने के कोटे से 1.53 इंच से 1.17 इंच ज्यादा है। इस बार अगर जून को छोड़ दें तो हर महीने कोटे से अधिक बारिश हुई है।

 इन जिलों में होगी हल्की बारिश 

इसके अलावा मौसम विभाग ने 6 संभाग उज्जैन, इंदौर, भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर और चंबल के जिलों में कई स्थानों पर बारिश की संभावना जताई है. इसके अतिरिक्त सागर, रीवा, शहडोल, जबलपुर में भी कहीं कहीं रिमझिम बारिश हो सकती है. मौसम विभाग ने आने वाले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के कई जिलों में बारिश की संभावना जता दी है. इस संभावना ने किसानों की परेशानी और भी बढ़ा दी है. एक तरफ जहां किसान खेतों से फसल नहीं निकाल पा रहे हैं, वहीं जिन किसानों ने फसल निकाली है, वे बोवनी नहीं कर पा रहे हैं.