कोराना का नया वेरिएंट के मामले दुनिया के कुछ देशों में तेजी से बढ़ रहे है। इससे भारत देश की भी मुश्लिलें कुछ हद तक बढ़ती नजर आ रही है। वही देश के महाराष्ट्र के मुंबई में ओमिक्रोन के नए वेरिएंट BF-7 के 7 मामले सामने आ चुके है। शुक्रवार को राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 11,55,074 हो गई है। जबकि मृतकों की संख्या 19,746 बनी हुई है।

क्या बोले बीएमसी के अधिकारी

मुंबई के बीएमसी अधिकारी ने बताया कि, गुरुवार को संक्रमण के तीन मामले दर्ज किए गए थे और एक मरीज की मौत हुई थी। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में पांच मरीजों के संक्रमण मुक्त होने के बाद अब तक 11,35,291 लोग ठीक हो चुके हैं। जबकि इस दौरान महानगर में इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 37 रह गई। वहीं बीएमसी के आंकड़ों के अनुसार ठीक होने की दर 98.3 प्रतिशत है।

Also Read : 1100 किलोमीटर साइकिल चलाकर PM मोदी को का दिया नर्मदा जल, सोशल मीडिया पर शेयर की भावुक तस्वीर

राज्य सरकार ने दिए ये अहम निर्देश

इधर महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की थर्मल जांच होगी। उन्होंने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की अगुवाई में हुई समीक्षा बैठक के बाद नागपुर में विधानसभा में बताया कि राज्य में बीएफ.7 का कोई मामला नहीं है। सभी जिले और शहरी एजेंसियों को वायरस के नए उपस्वरूप के बारे में जागरुक किया जा रहा है और उन्हें सतर्क रहने के लिए कहा गया है। फडणवीस ने कहा कि हर जिले में नोडल अधिकारी स्थिति पर निगाह रखेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है,राज्य में सैंपलों का जीनोम टेस्ट किया जा रहा है।

केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों ने कोरोना के मामलों का जीनोम सिक्वेंसिंग कराने का निर्देश दिया है। इसके बाद कई राज्यों ने विदेश से आने वाले यात्रियों के संक्रमित पाए जाने पर उनके नमूनों का जीनोम सिक्वेंसिंग कराने का निर्णय किया है ताकि वायरस के प्रकार के बारे में जानकारी मिल सके।