कश्मीर का विकास पकड़ेगा रफ़्तार, निवेश के लिए लगी कंपनियों की कतार

उम्मीद की जा रही है कि अब कश्मीर में अमन-चैन बहाल होगा, कारोबार बढेगा और इससे नौकरियों का सृजन होगा।

0
69
kashmir

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 ख़त्म होने के बाद राज्य के विकास की प्लानिंग शुरू हो गई है। उम्मीद की जा रही है कि अब कश्मीर में अमन-चैन बहाल होगा, कारोबार बढेगा और इससे नौकरियों का सृजन होगा। इसको देखते हुए कई बड़ी कंपनियों ने निवेश की संभावनाओं को टटोलना शुरू कर दिया है।

कोटक महिंद्रा बैंक के एमडी उदय कोटक ने एक बयान में कहा कि जम्मू-कश्मीर में आर्थ‍िक तरक्की और नौकरियों के अवसर बढ़ाने के लिए पहल किए जाने चाहिए। राज्य में विकास की प्रचुर संभावनाएं हैं, क्योंकि वहां प्राकृतिक संसाधनों और प्रतिभाओं की भरमार है।

इसके अलावा डेयरी क्षेत्र के दिग्गज अमूल इंडिया ने कश्मीर में निवेश के लिए रुचि दिखाई है। वहीं हेलमेट बनाने वाली प्रमुख कंपनी स्टीलबर्ड ने भी जम्मू-कश्मीर में एक प्लांट लगाने की पेशकश की है।

होटल इंडस्ट्री से जुड़े लेमन ट्री ने गुलमर्ग और सोनमर्ग में 35-40 बेड का होटल खोलने का प्रस्ताव रखा है। बता दे कि लेमन ट्री के पास पहले से ही इस इलाके में 176 बेड की क्षमता वाले तीन होटल हैं।

इधर पाकिस्तान इस फैसले से इतना बौखला गया है कि उसने भारत के साथ अपने सभी द्विपक्षित व्यापार को ख़त्म कर लिया है। इसके साथ ही पाक्सितान ने अपने तीन एयरबेस बंद कर लिए है और भारत की सभी फिल्मों को पाकिस्तान में नहीं चलाने का फैसला लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here