अमेरिका

कोरोना के साथ अमेरिका में नई आफत, सैकड़ों लोग बेघर

नई दिल्ली: अमेरिका एक तरफ कोरोना का कहर झेल रही है, वहीं दूसरी ओर उसके सामने एक नई मुसीबत आ गई है। दरअसल, मिशिगन राज्य में पिछले 48 घंटों में इतनी बारिश हुई कि यहां के दो बांध टूट गए। इन दोनों बांधो के एकसाथ टूटने का नतीजा ये हुआ कि एक शहर पानी में डूब गया।

dam burst in michigan america

बताया जा रहा है कि मंगलवार से लगातार हो रही लगातार बारिश से मिशिगन राज्य के मिडलैंड काउंटी शहर से करीब 30 किलोमीटर दूर स्थित डैम टूट गया, जिसके कारण शहर में बाढ़ आ गई। 40 लाख की आबादी वाले इस श्षर से 10 हजार लोगों को बचाया गया. जबकि, हजारों की संख्या में लोग बेघर हो गए हैं।

बताया जा रहा है कि दो साल पहले इस डैम को लेकर रिपोर्ट आई थी कि यह डैम पानी का ज्यादा दबाव बर्दाश्त नहीं कर पाएगा। मिशिगन की गर्वनर ग्रेचेन विटमर ने कहा कि यहां पर डाउ केमिकल प्लांट को भी खतरा है। उसके बगल बहने वाली तित्ताबवासी नदी का पानी प्लांट के परिसर में घुस गया है इसलिए हमने इमरजेंसी घोषित कर दी है।

dam burst in michigan america

बाढ़ आने के बाद मिडलैंड में स्थित डाउ केमिकल कंपनी के मुख्यालय को खाली करा लिया गया है।. सिर्फ बेहद जरूरी स्टाफ को रखा गया है ताकि कंपनी में कोई दिक्कत हो तो खबर मिल सके। इस फैक्ट्री में सुपरफंड साइट है, जहां डाईऑक्सिंस रखे हैं। यदि ये रिलीज हुए तो भोपाल गैस कांड जैसी हालत हो सकती है।

डाउ केमिकल प्लांट में सारन रैप, स्टाइरोफोम, एजेंट ऑरेंज और मस्टर्ड गैस जैसी जहरीली और खतरनाक केमिकल रखे है। अब कंपनी के लोग कोस्ट गार्ड और अन्य अधिकारियों के साथ इस काम में लगे हैं कि केमिकल कंपनी से किसी भी प्रकार के गैस या अन्य खतरनाक पदार्थों की लीकेज न हो।

गर्वनर विटमर का कहा है कि मिशिगन के 500 साल के इतिहास में ऐसी बाढ़ नहीं देखी गई है। निचले इलाकों में 9 फीट तक पानी भर गया है और पानी का स्तर अभी भी बढ़ता जा रहा है। अगले 12 से 15 घंटों में हमें और मिडलैंड काउंटी के लोगों को सतर्क रहना होगा।