मतलब की दुनिया में कोन किसका सोचता है जो जैसा देखता है वो वैसा खोजता है, ये बात भले ही सच होगी लेकिन आज भी दुनिया में ऐसे लोग है जो अपने मतलब और स्वार्थ को पीछे छोड़ किसी और को खुश करने में जी जान से लगे हुए है, हम बात क्र रहे है अद्भुत वेलफेयर सोसाइटी की जो न केवल किसी के चेहरे पर मुस्कान लाने का काम करती है बल्कि किसी भी इंसान की जान बचने के लिए जहां तक कोषिष की जा सकती है वहां तक उसका साथ निस्वार्थ भाव से देती है, रक्तदान करवाना, किसी गरीब का इलाज करवाना, किसी की पढाई में पैसे लगाना, किसी की छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी जरुरत को पूरा करने में सक्षम अद्भुत ने इस बार दीपावली पर सेकड़ो परिवार में उजाला भर दिया

अद्भुत की खुशियों वाली दिवाली

अद्भुत कम्यूनिटी एम्पॉवरमेंट एंड वेलफेयर सोसाइटी,द्वारा दीपोत्सव का शुभारंभ लक्ष्मी बाई मंडी के बच्चो के साथ एकादशी से किया गया था. संस्था के यूथ विंग के अध्यक्ष पौरुष मिश्रा ने जानकारी दी, कि यहाँ विभिन्न आयु वर्ग के बच्चो को नये वस्त्र, मिठाई व पटाखों का वितरण किया गया, और उन्हे रंगोली बनाना भी सिखाई गई. इसी के साथ नशे जैसी बुरी आदतो को छोड़ने हेतु बच्चो को प्रेरित किया गया.

संस्था की सचिव परिधि राठौर द्वारा जानकारी दी गई की संस्था अपनी टेग लाइन “खुशियों से भरी दीपावली” के अंतर्गत विगत सात वर्षो से यह आयोजन कर रही हैं, जिसमें न केवल इंदौर, बल्कि उज्जैन, भोपाल, सनावद, रतलाम, आदि शहर भी शामिल हैं. विनीता यादव, साक्षी अग्रवाल, अर्चिता, अम्बिका जी यशस्वी आदि सहयोग से सम्पूर्ण हुआ इस आयोजन के माध्यम से आश्रित व जरूरतमंद परिवारों को मुख्य धारा से जोड़ते हुए त्योहार की खुशिया उल्लास से मनाने का मौका मिले, यही संस्था का मुख्य उद्देश्य है.

अलग अलग शहरों में भी बाटेंगे ख़ुशी की रोशनी

संस्था के सदस्य चोलमंडलम् फाइनेंस के वरिष्ठ अधिकारी संदीप परसाई द्वारा बताया गया की यह आयोजन एकादशी से प्रारंभ हुआ है तथा देव उठनी एकादशी तक निरंतर अलग अलग शहरों मे किया जायेगा.आज यहाँ लगभग 150 बच्चो के साथ यह उत्सव मनाया गया.संस्था लगभग 800-1000 बच्चो तक
इस उत्सव को मनाने का एक छोटा सा लक्ष्य लेकर चल रही हैं.इस उत्सव को साकार रूप देने के लिए स्वैच्छिक कार्यकर्ता जया श्रीवास्तव, आशीष, मयंक…. प्रत्यक्ष रूप से उपस्थित रहे.चोलमंडलम् फाइनेंस के कर्मचारियों का इस उत्तम कार्य के आयोजन मे विशेष सहयोग प्रदान किया गया.