वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के निर्माण या रखरखाव में लाल किताब के नियम के अनुसार घर के रख रखाव में की गई अनदेखी इंसान को कंगाली के रास्ते पर धकेल देती है.ऐसी मान्यता हैं कि शाम के समय कुछ खास काम करने से भी इंसान को अनेको वास्तु दोष घेर लेते हैं. संध्या के समय ये गलतियां करने से घर की आर्थिक संपन्नता पर बहुत बुरा असर पड़ता है.

परिवार के संपूर्ण विकास के लिए वास्तु शास्त्रों के सिद्धांतों का पालन करना बहुत ही आवशयक बताया गया है. घर के नवीनीकरण या रखरखाव में वास्तु शास्त्र के नियमों की लापरवाही इंसान को कंगाली के रास्ते पर ला सकती है.ऐसी हिन्दू पौराणिक मान्यता हैं कि संध्या के समय कुछ खास काम करने से भी इंसान को वास्तु दोष घेर लेते हैं.शाम के वक्त ये गलतियां करने से घर की आर्थिक संपन्नता पर बहुत बुरा असर पड़ता है.
आइए आपको बताते हैं कि वास्तु शास्त्र में सूर्यास्त के बाद कौन कौन से काम न करने की सलाह दी जाती हैं.

  • उधार पैसा न दें

वास्तु शास्त्र के अनुसार, हमें भूलकर भी किसी को उधार पैसे नहीं देने चाहिए और न ही किसी से उधार पैसे लेने चाहिए,सूर्यास्त के बाद न तो किसी को उधार रुपया दें और न ही किसी से कर्ज लें.ऐसा कहते हैं कि सूर्यास्त के बाद किसी को उधार पैसे देने से वो कभी वापस नहीं मिलते हैं. इस घड़ी में लिए हुए कर्ज का भार भी कभी नहीं उतरता है.और शाम के समय उधार पैसे लेने से मां लक्ष्मी रूठ जाती है

  • तुलसी के पत्ते न तोड़ें

ऐसी मान्यता हैं कि तुलसी के पौधे के अंदर माता लक्ष्मी का वास होता है, इसलिए संध्या के समय भूलकर भी तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए.ऐसा करने से भगवान विष्णु व माँ लक्ष्मी रुष्ट हो जाते हैं. शाम के समय तुलसी के पत्ते तोड़ने से रोग और आर्थिक तंगी जैसी समस्याएं इंसान को घेर लेती हैं.शाम के वक्त तुलसी को छूने की बजाए उसके सामने घी का दीपक प्रज्ज्वलित करें.और साथ ही चावल के दाने दीपक के नीचे रखें और फिर दीपक प्रज्ज्वलित करें।

Also Read – ग्लो बढ़ाने के लिए इन 5 तरीकों से करें हल्दी का उपयोग, कई समस्याएं होगी दूर 

  • झाड़ू न लगाएं

वास्तु के अनुसार, सूर्यास्त के बाद घर में भूलकर भी झाड़ू नहीं लगानी चाहिए.संध्या के वक़्त घर में झाड़ू लगाने से माता लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं, अगर किसी कारणवश आपको घर में झाड़ू लगानी भी पड़े तो झाड़ू द्धारा निकला कचरा, घर से बाहर न फेंकें. इसे एक जगह एकत्रित कर ले और अगले दिन सूर्योदय के बाद ही समेटे हुए कूड़े को घर से बाहर निकालें.

  • संध्या के समय घर के दरवाज़े खुले रखें

शाम के वक़्त घर का मुख्य द्वार थोड़ी देर के लिए खुला रखें. जिससे ऐसी मान्यता हैं कि सूर्यास्त के बाद घर के मुख्य द्वार को बंद नहीं रखना चाहिए. क्यूंकि वास्तु के अनुसार ऐसी मान्यता हैं की शाम का समय मां लक्ष्मी का होता हैं,शाम के समय ही मां लक्ष्मी हमारे घर में प्रवेश करती हैं. इसलिए शाम के समय अगर घर का मुख्य द्वार बंद होगा तो मां लक्ष्मी प्रवेश नहीं कर पाएंगी.और वह से ऐसे ही लौट जाएंगी।

  • शाम के समय घर में लड़ाई-झगड़ा करने से बचना चाहिए

वास्तु शास्त्र के अनुसार, सूर्यास्त के बाद घर में कभी भी लड़ाई झगड़ा नहीं करना चाहिए.इससे माता लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं और घर को कंगाली, गरीबी घेरने लगती है.और खाने के लिए भी धन और अनाज कमाना मुश्किल हो जाता हैं अगर शाम के वक्त आपके द्वार पर कोई गरीब आदमी आए तो उसे कभी भी खाली हाथ न जाने दे. उसे ऐसे में कुछ थोड़ा सही मगर दान अवश्य दे.

डिस्क्लेमर – इस खबर में लिखी/बताई गई सूचनाएं और जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Ghamasan.com किसी भी तरह की पुष्टि नहीं करता है.