पाकिस्तान और भारत के मध्य स्थित अटारी बॉर्डर पर एक बच्चे ने जन्म लिया। और उसके माता पिता ने उसका नाम ऐसा रखा कि वह बच्चा बड़ा होने के बाद खुद ही समझ जाएगा कि उसके नाम का मतलब क्या हैं?

दरअसल माजरा यह हैं कि पाकिस्तान वाले पंजाब से राजनपुर जिले के रहने वाले दम्पति भारत में भ्रमण के लिए आना चाहते थे। लेकिन इसके लिए वे जरूरी साक्ष्य जुटा पाने में असमर्थ रहें। जिस कारण उन्हें न तो भारत आने दिया जा रहा और न ही पाकिस्तान वापस भेजा जा रहा हैं। हालांकि वो ऐसे अकेले नहीं हैं जो अटारी बॉर्डर पर फसें हुए हैं। बल्कि लगभग 100 लोगो के वहां फसे होने की खबरें हैं। और इन लोगो को वहां 2 महीने से ज्यादा दिन बीत चुके हैं।

इसी बीच वहां राजनपुर निवासी निम्बू बाई पति बलम राम ने एक बच्चे को जन्म दिया। और जब बारी उसके नामकरण की आई तो दोनों ने अपने नवजात शिशु का नाम ‘बॉर्डर’ रख दिया। और जब उनसे इस फैसले को लेकर बात की गई तो उन्होंने बहुत ही मासूमियत से जवाब दिया कि उनके बच्चे का जन्म भारत और पाकिस्तान के बीच अटारी बॉर्डर पर हुआ हैं इसलिए बच्चे का नाम ‘बॉर्डर’ रख दिया गया।