धमाकों से दहल उठा शादी समारोह, 63 की मौत, 180 से अधिक जख्मी

0
Blast

काबुल। आतंकियों का गढ़ कहे जाने वाला अफगानिस्तान भी सुरक्षित नहीं है। इसी बीच काबुल में एक शादी समारोह के दौरान हुए ब्लास्ट में 63 लोगों की मौत हो गई, जबकि 180 से अधिक लोग जख्मी हो गए हैं। टोलो न्यूज ने गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक बताया कि यह धमाका शनिवार देर रात हुआ। बताया जा रहा है कि इस धमाके में मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक शादी समारोह में धमाका उस दौरान हुआ जब समारोह में मेहमानों से हाॅल पूरी तरह से भरा हुआ था। इस धमाके के बाद वहां अफरातफरी और चीख पुकार मच गई। सभी इधर-उधर भागने लगे। फिलहाल किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। बताया जा रहा है कि 10 दिन पहले भी काबुल में बम धमाका हुआ था, जिसमें 95 लोग घायल हो गए थे।

एमएसएमई सेक्टर में काम करने वाले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े संगठन लघु उद्योग भारती के कार्यक्रम में नितिन गडकरी ने कहा कि उन्होंने हाल में कुछ अधिकारियों को चेतावनी दी कि अगर कुछ मामले नहीं सुलझते हैं, तो वह लोगों से कहेंगे कि धुलाई कर दो। इतना ही नहीं, नितिन गडकरी ने कहा कि हमारे पास यह लालफीताशाही क्यों है। ये सब इंस्पेक्टर क्यों आते हैं, वे रिश्वत लेते हैं। मैं उनके मुंह पर कहता हूं कि आप सरकारी नौकर हैं, मैं जनता के द्वारा चुना गया हूं। मैं लोगों के प्रति जवाबदेह हूं. यदि आप चोरी करते हैं, तो मैं कहूंगा कि आप एक चोर हैं।

नितिन गडकरी ने इस दौरान कहा कि मैंने आरटीओ कार्यालय में एक बैठक की, जिसमें निदेशक और परिवहन आयुक्त ने भाग लिया। इस दौरान उनसे कहा कि आप आठ दिनों के भीतर इस समस्या को हल करें, अन्यथा मैं लोगों को कानून हाथ में लेकर धुलाई करने को कहूंगा। उन्होंने आगे कहा कि उनके शिक्षकों ने यह सिखाया है कि उस सिस्टम को बाहर फेंक दो जो न्याय नहीं देती है।