उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले से चोरी का एक ऐसा मामले सामने आया जिसमें चाय के शौक़ीन चोरों ने घर में पहले आराम से चाय बनाई जिसके बाद चोरी की घटना को अंजाम दिया। दरअसल बीतें कई दिनों से बस्ती में लगातार चोरी की घटनाओं से लोगों में दहशत का माहौल है।

लगातार हो रही चोरी की घटनाओं के वावजूद अब तो लोग कहने लगे हैं जागते रहो पुलिस सो रही है। सर्दी का मौसम शुरू होते ही चोरों ने पुलिस की गश्त की हवा निकाल दी। चोर इतने शातिर हैं उनको पुलिस का ज़रा भी खौफ नहीं है, आप इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं की चोर जिस घर में चोरी करने जाए और चोरी से पहले बकायदा किचन में जा कर चाय बनाई और चाय का लुत्फ लेते हुए बड़े आराम से चोरी की घटना को अंजाम दिया।

दो दिन के लिए लखनऊ गया था परिवार

बस्ती के सोनहा थाना से कुछ दूरी पर फेरसम गांव में शिव कुमार मिश्रा का परिवार रहता है। 27 अक्टूबर को शिव के पिता की तबीयत ज्यादा खराब होने की वजह से घर पर ताला लगाकर पूरा परिवार लखनऊ आ गया। इसी बीच गत दिनों बंद घर को देखकर चोर चोरी के इरादे से बड़ी ही चालाकी के साथ मेन दरवाजे के ताले को न तोड़ते हुए चैनल का ताला तोड़कर घर के अंदर घुस गए।

पुलिस ने बताया कि पूरे घर में किसी के न होने पर चोरों ने आराम से चोरी करने का फैसला किया। उन्होंने पहले रसोई में चाय बनाई और फिर चाय के मजे लेते हुए चोरी को अंदाम दिया। चोरों ने पूरे घर के सामान को बिखेर दिया और कमरे में मौजूद अलमारी और बक्से के ताले तोड़-तोड़कर सोना-चांदी और नकद रुपये लेकर चले गए।

मामले का खुलासा तब हुआ जब कुछ दिनों बाद शिव के वापस लौटने पर चोरी की वारदात का खुलासा हुआ। उन्होंने सबसे पहले चैनल गेट का ताला टूटा देखा। इसके बाद जब अंदर गए तो सारा सामान बिखरा था और रसोई में चाय के गंदे बर्तन रखे मिले। इससे उन्होंने अंदाजा लगाया कि घर खाली पाकर चोरों ने बड़े आराम से चोरी की। शिव के मुताबिक, उनके घर से अंगूठी, हार, पायजेब समेत करीब पांच-छह लाख रुपये के गहनें और 10,000 रुपये गायब हैं।

Also Read : ज्ञानवापी केस : जिला कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष की याचिका की खारिज, हिंदू पक्ष कर रहा है ये मांग

फ़िलहाल घटना की जानकारी पुलिस अधीक्षक (SP) को दी। शिकायत के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मौका मुआयना किया और फिर चोरी की FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी। इसी तरह फोरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंचते हुए आवश्यक साक्ष्य जुटाए हैं।