Today Tithi: आज है मार्गशीर्ष कृष्ण द्वितीया तिथि, इन बातों का रखें ध्यान

अनिल यादव

आज रविवार, मार्गशीर्ष कृष्ण द्वितीया तिथि(Tithi) है।
आज मृगशिरा नक्षत्र, “आनन्द” नाम संवत् 2078 है
( उक्त जानकारी उज्जैन के पञ्चाङ्गों के अनुसार है)

-आज के दिन शिव पार्वती जी का विवाह हुआ था। (शिव पुराण, पार्वती खण्ड अध्याय 35)
-शिव मन्दिर में गलनाद अशुभ माना गया है।
-गणेश जी को छोड़कर तुलसी सब देवताओं को चढ़ती है।
-पगड़ी या टोपी पहनकर और ताम्बूल खाते हुए कथा नहीं सुनना चाहिए। (शिव पुराण)
-शिवपुराण सूर्योदय से पहले आरम्भ कर साढ़े तीन प्रहर तक बांचना चाहिए।
-महाभारत काल के पूर्व अनेक सम्प्रदाय नहीं थे। उस समय एक भी धर्म में त्रुटि हो जाने से सारे संसार में खलबली मच जाती थी।
-अब विद्वानों की मत भिन्नता के कारण नास्तिक शिरोमणि चार्वाक बौद्धादिक का मत प्रबल हो गया है।
-आर्द्रा नक्षत्र युक्त चतुर्दशी को गायत्री जप का अक्षय फल होता है।
-जब आर्द्रा नक्षत्र में सूर्य हो तब किसी भी मन्त्र का जप कोटि गुना फल देता है।
-यह समय लगभग 22 जून से 6 जुलाई के मध्य आता है।