मातम में बदली जीत की खुशियां, जश्न के बीच नवनिर्वाचित पार्षद के बेटे की अचानक हुई मौत

मैहर के वार्ड क्रमांक 3 के नवनिर्वाचित पार्षद के बेटे की मौत जीत के जश्न के बीच अचानक ही हो गई.

आज मध्य प्रदेश में नगरी निकाय चुनाव के सारे निगमों के नतीजे सामने आ चुके हैं. 16 में से 9 नगर निगम पर भाजपा, 5 पर बीजेपी और 1-1 पर आप और अन्य पार्टियों में जीत दर्ज की है. सतना में चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद जहां जश्न का माहौल था उसी बीच एक ऐसा हादसा हुआ कि चारों ओर मातम छा गया.

मैहर नगर पालिका निगम पार्षद पद पर जीते उम्मीदवार को पार्षद बनने की खुशी मिले चंद लम्हे ही गुजरे थे कि अचानक ही पूरे परिवार पर गमों का पहाड़ टूट गया. वार्ड नंबर 3 से कांग्रेस के प्रत्याशी रामू खोल पार्षद निर्वाचित हुए. पार्षद बनने के कुछ देर बाद उनके पुत्र कृष्णा कोल की अचानक ही मौत हो गई.

जीत की खुशी में जहां घर में ढोल नगाड़े बज रहे थे और अबीर गुलाल उड़ाया जा रहा था. उसी बीच अचानक हुई इस घटना ने पूरे परिवार और वहां मौजूद हर शख्स को हैरत में डाल दिया. निर्वाचित हुए पार्षद का बेटा कृष्णा परिणाम के समय अपने घर पर था. उसे अपने पिता की जीत की खुशी फोन पर मिली. जिसके बाद उसने कुछ लोगों को बुलाकर मिठाई डीजे और बैंड बाजे की व्यवस्था करने की बात कही.

Must Read- मध्य प्रदेश नगर निगम चुनाव के नतीजे आए सामने, जानें कहां किस को मिली जीत

कृष्णा ने सभी को तैयारी करने को कहा और खुद कपड़े बदलने के लिए चला गया. वहां अचानक ही उसकी तबीयत बिगड़ी और वह गिर पड़ा. तुरंत उसे जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. डॉक्टरों ने यह जानकारी दी है कि ह्रदय गति रुक जाने की वजह से यह घटना घटी है.

पिता के चुनाव जीतने के जश्न के बीच अचानक से हुई बेटे की इस मौत ने सभी को स्तब्ध कर के रख दिया. बता दें कि मृतक कृष्णा के 3 बच्चे हैं. अचानक हुई इस घटना के बाद कृष्णा के माता-पिता पत्नी गुड़िया 22 वर्षीय बेटे राज 16 वर्षीय बेटे और 19 वर्षीय पुत्री सुभद्रा का रो रो कर बुरा हाल है.