मध्य प्रदेश नगर निगम चुनाव के नतीजे आए सामने, जानें कहां किस को मिली जीत

मध्यप्रदेश में नगर निगम चुनाव के नतीजे सामने आ चुके हैं. देखें किस क्षेत्र में किस पार्टी का कैसा प्रदर्शन रहा

MP: मध्य प्रदेश नगरीय निकाय चुनाव के नतीजे सामने आ गए हैं भाजपा ने 16 नगर निगम में से 9 पर अपना कब्जा जमाया है. 5 पर कांग्रेस और 1-1 पर आप और निर्दलीय की जीत हुई है. 5 नगर निगमों में कांग्रेस के महापौर जरूर जीते हैं बने हैं लेकिन पार्षद भाजपा के ही ज्यादा है रीवा में 18 पार्षद भाजपा और 16 पार्षद कांग्रेस के हैं जबकि 11 अन्य है मुरैना में भाजपा और कांग्रेस दोनों को ही बहुमत नहीं मिल पाया 14 सीटों पर भाजपा 19 पर कांग्रेस और 14 पर सपा बसपा और अन्य ने कब्जा किया है.

ग्वालियर में 66 में से 36 पार्षद भाजपा के और 19 पार्षद कांग्रेस के हैं.

जबलपुर में 79 में से 39 पार्षद भाजपा और 30 पार्षद कांग्रेस के हैं.

सिंगरौली में 45 में से 23 पार्षद भाजपा और 13 पार्षद कांग्रेस के हैं.

कटनी में 45 वार्डो में भाजपा के 27 और कांग्रेस के 15 सहित अन्य 3 पार्षदों ने जीत दर्ज की है.

76 नगर पालिकाओं में से 50 में भाजपा को बहुमत मिला है और 15 में स्थिति अच्छी बनी हुई है. जबकि कांग्रेस ने 70 में से 11 सीटें जीती है. 255 नगर परिषद में सेक्स पचासी पर भाजपा को स्पष्ट बहुमत है और 46 में स्थिति अच्छी है जबकि कांग्रेस को 24 में संतोष करना पड़ा.

साल 2014 में 98 नगर पालिकाओं के चुनाव में भाजपा को 54 सीटें मिली थी जिसे 55% कहा जा सकता है. इस वर्ष 75 नगर पालिकाओं में जो चुनाव हुए हैं कुछ नहीं 65 सीटों पर भाजपा जीती है जो जीत का 85% है. 2014 के नगर परिषद चुनाव में भाजपा को 154 सीट मिली थी जो जीत का 58% था और इस साल 255 नगर परिषद पर हुए चुनाव में भाजपा 231 पर अपने अध्यक्ष बना रही है. जो जीत का 90.58% है.

Must Read- मध्यप्रदेश नगरीय निकाय चुनाव रिजल्ट: जीत के बाद भी भाजपा को झेलना पड़ा नुकसान, बढ़ा कांग्रेस का वर्चस्व, आप और एआईएमआईएम ने ली एंट्री

कटनी, राजगढ़, सागर, जबलपुर, सिवनी, रायसेन, सीहोर, देवास, रीवा, मुरैना, नरसिंहपुर जिले में नगर परिषद में भाजपा का प्रदर्शन शत प्रतिशत देखा गया. छिंदवाड़ा, सीहोर, सागर नर्मदापुरम, विदिशा, नरसिंहपुर यहां पर भाजपा ने शत-प्रतिशत जीत दर्ज की है. छिंदवाड़ा की तीन नगरपालिका अमरवाड़ा, चौरई और परासिया में भाजपा ने जीत दर्ज की है. जबलपुर में 8 में से 6 नगर परिषद में भाजपा ने जीत दर्ज की है. मुरैना में 5 में से 4 नगर परिषद पर भाजपा जीती है. रीवा में 12 में से 11 और ग्वालियर की सभी पांच नगर परिषदों में भाजपा का प्रदर्शन बेहतर रहा. कटनी में तीनों नगर परिषद भाजपा के नाम रही.

नगर निगम के 884 वार्डों में से 491 वार्डो पर भाजपा ने जीत दर्ज की है. 274 वार्ड में कांग्रेस और 102 पर अन्य पार्षद जीते हैं. 76 नगर पालिकाओं में 1795 वार्ड थे जिसमें से 975 पर भाजपा जीती और 571 पर कांग्रेस तथा 249 पर अन्य पार्षद जीते हैं. 255 नगर परिषद में 3828 वार्ड में से 2002 पर भाजपा ने जीत दर्ज की 1087 पर कांग्रेस और 739 पर अन्य पार्षद जीते हैं.