नई दिल्ली। द‍िल्‍ली के कंझावला में अंजलि की स्कूटी को नए साल की रात एक कार ने टक्कर मार दी थी और दुर्घटना के बाद वह कार में फंसकर 12 किलोमीटर तक घिसटती गई थी। उसका शव बाहरी दिल्ली के कंझावला में मिला था। गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत ने हादसे के सभी 5 आरोपियों को 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा है।

बता दे कि दिल्ली पुलिस ((Delhi Police) ने आज एक और बड़ा खुलासा किया है। पुलिस का कहना है कि इस केस में 5 नहीं बल्कि 7 आरोपी हैं। इन दो आरोपियो की पुलिस तलाश कर रही है। साथ ही यह भी पता चला है क‍ि उस रात जो कमरा बुक क‍िया गया था वो अंजली ने नहीं बल्‍क‍ि उसकी बताई जा रही दोस्‍त न‍िध‍ि ने क‍िया था।

Also Read – IMD Alert : अगले दो दिनों तक इन 10 जिलों में होगी जोरदार बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

गुरुवार को इस हादसे को लेकर एक और CCTV फुटेज सामने आया है। इस फुटेज में अंजलि को कार से घसीटने वाले आरोपियों को गाड़ी छोड़कर भागते हुए देखा जा रहा है। इस नए CCTV फुटेज में आरोपी ऑटो लेकर भाग जाते हैं। द‍िल्‍ली पुल‍िस के स्‍पेशल कम‍िश्‍नर लॉ एंड ऑर्डर सागर प्रीत हुड्डा (Sagar Preet Hooda) ने बताया क‍ि इन 2 अन्य आरोपियों ने सबूतों से छेड़छाड़ करने की कोशिश की है और आरोपियों की मदद करने की कोशिश करते हुए गलत जानकारी दी है।

जानकरी के लिए आपको बता दे कि दिल्ली पुलिस ने पांचों आरोपियों की 3 दिन की रिमांड खत्म होने के बाद उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के जरिये रोहिणी कोर्ट में पेश किया। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने पांचों आरोपियों की 5 दिन की पुलिस रिमांड बढ़ाने की मांग की। दोनों तरफ की दलीलें सुनने के बाद मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट सान्या दलाल ने पांचों आरोपियों को चार दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया।