आम आदमी पार्टी की सरकार और दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना के बीच माहौल गरमाता जा रहा हैं। आप की ओर से दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने LG को चिट्ठी लिखकर बड़ा हमला किया है। उन्होंने ने कहा कि, उपराज्यपाल चुनी हुई सरकार को बाईपास (Bypass) कर रहे हैं। सभी जांच गैरकानूनी और असंवैधानिक हैं। साथ ही कहा कि आपको जमीन, पुलिस, पब्लिक ऑर्डर और सर्विसेज के अलावा अन्य किसी भी मामले में आदेश देने का अधिकार नहीं है।

ये तंज कसा LG पर सिसोदिया ने

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने LG पर हमला करते हुए कहा कि आपके सभी आदेश राजनीति से प्रेरित हैं। क्योंकि अब तक किसी भी जांच में कुछ भी नहीं निकला है. इसलिए आपसे आग्रह है कि आप संविधान के अनुरूप कार्य करें।

Also Read : Anil deshmukh : महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री और NCP नेता अनिल देशमुख को Money Laundering Case में राहत, Bombay HC से मिली जमानत

लगाए ये आरोप

गौरलतब है कि, सोमवार को LG वीके सक्सेना ने सीएम अऱविंद केजरीवाल को चिट्ठी लिखी थी। इसमें उन्होंने लिखा था कि गांधी जयंती के मौके पर मुख्यमंत्री या फिर दिल्ली सरकार का कोई भी मंत्री राजघाट नहीं पहुंचा। न ही लाल बहादुर शास्त्री की समाधि पर सीएम केजरीवाल या कोई मंत्री नहीं आया। LG सक्सेना ने कहा था कि जहां प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री आए हों, वहां ऐसा नहीं होना चाहिए था। उपराज्यपाल ने चिट्ठी में लिखा कि प्रथम दृष्टया यह मामला जानबूझकर प्रोटोकॉल तोड़ने का मामला मालूम पड़ता है।

नही दिया चिट्ठी का जवाब LG ने

हालांकि आम आदमी पार्टी की ओर से उपराज्यपाल की इस चिट्ठी का भी जवाब दिया गया था। AAP ने कहा था कि ये चिट्ठी पीएम मोदी के निर्देश पर लिखी गई है। साथ ही कहा था कि, सीएम अरविंद केजरीवाल पिछले कई वर्षों में हमेशा गांधी जयंती और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के कार्यक्रमों में शामिल हुए हैं। उस दिन CM गुजरात में थे और इसलिए वह कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके।