surya Grahan 2021

Surya Grahan 2022: साल 2022 का अंतिम सूर्य ग्रहण आज 25 अक्टूबर को लग रहा है। भारत में ये सूर्य ग्रहण दिन में 2 बजकर 29 मिनट से आरंभ हो जाएगा और लगभग 4 घंटे 3 मिनट तक चलेगा। भारत में यह​ एक आंशिक सूर्य ग्रहण है। यह देश के दिल्ली, बेंगलूरु, उज्जैन, कोलकाता, वाराणसी, मथुरा समेत कई शहरों में दिखाई देगा। यह सूर्य ग्रहण यूरोप, एशिया और उत्तरी-पूर्वी अफ्रीका के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा। भारत में सूर्य ग्रहण का सूतक काल 25 अक्टूबर को सुबह 3 बजकर 29 मिनट से शुरू हो चुका है और इसका समापन शाम 6 बजकर 9 मिनट पर होगा।

सूर्य ग्रहण 2022 सूतक काल समय

सूर्य ग्रहण का सूतक काल आज प्रात: 03:17 बजे लेकर शाम 05:42 बजे तक है।

क्या है सूतक काल?

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे या 09 घंटे पूर्व प्रारंभ होता है. सूर्य ग्रहण का सूतक काल ग्रहण समय से 12 घंटे पूर्व प्रारंभ हो जाता है, जबकि चंद्र ग्रहण में सूतक काल 09 घंटे पूर्व प्रारंभ होता है। सूतक काल को एक प्रकार से अशुभ समय मानते हैं, इसमें कोई भी मांगलिक शुभ कार्य नहीं करते हैं। ग्रहण के समापन के कुछ समय बाद सूतक काल का अंत होता है. जिस स्थान पर सूर्य ग्रहण दिखाई देता है, वहां पर सूतक काल मान्य होता है।

Also Read – Diwali 2022: दिल्ली में रात भर के पटाखों ने फिर से ‘जहर’ कर दिया, रोक के बावजूद कई इलाकों में जमकर हुई आतिशबाजी

आंशिक सूर्य ग्रहण क्या होता है

सूर्य ग्रहण तब होता है जब चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच से गुजरता है। हालांकि, 25 अक्टूबर यानी आज लगने वाला ग्रहण आंशिक होगा। इसका मतलब है कि चंद्रमा आंशिक रूप से सूर्य पर एक गहरी छाया डालेगा। भारत में, सूर्य ग्रहण का समापन सूर्यास्त के समय होगा. विशेषज्ञों के अनुसार, सूर्य ग्रहण नंगी आंखों से नहीं देखना चाहिए, उससे आंखों को क्षति पहुंचती हैं. भारत में लगभग 40-50% सूर्य चंद्रमा से ढका रहेगा, जो भारत के उत्तर पश्चिमी भागों में दिखाई देगा।

सूतक काल में क्या करें और क्या न करें

1. सूतक काल के समय में सोना वर्जित होता है।

2. इस समय में भोजन नहीं करना चाहिए।

3. सूतक काल के समय में आप अपने इष्ट देव के नाम का जप कर सकते हैं। इस समय में मंदिर के कपाट बंद रहते हैं।

4. सूतक काल में गर्भवती महिलाओं को भी विशेष ध्यान रखना होता है। उनको नुकीली वस्तुओं जैसे सुई, कैंची, चाकू आदि का उपयोग किसी काम में नहीं करना चाहिए।

आपके शहर में कितने बजे दिखेगा सूर्य ग्रहण

दिल्ली- 04 बजकर 51 मिनट से 05 बजकर 42 मिनट तक

कोलकाता- 04 बजकर 51 मिनट से 05 बजकर 04 मिनट तक

मुंबई- 04 बजकर 49 मिनट से 06 बजकर 09 मिनट तक

चेन्नई- 05 बजकर 13 मिनट से 05 बजकर 45 मिनट तक

पटना- 04 बजकर 42 मिनट से 05 मिनट बजकर 14 मिनट तक

जयपुर- 04 बजकर 31 मिनट से 05 बजकर 50 मिनट तक

लखनऊ- 04 बजकर 36 मिनट से 05 बजकर 29 मिनट तक

हैदराबाद- 04 बजकर 58 मिनट से 05 बजकर 48 मिनट तक

बैंगलोर- 05 बजकर 12 मिनट से 05 बजकर 56 मिनट तक

अहमदाबाद- 04 बजकर 38 मिनट से 06 बजकर 06 मिनट तक

पुणे- 04 बजकर 51 मिनट से 06 बजकर 06 मिनट तक

नागपुर- 04 बजकर 49 मिनट से 05 बजकर 42 मिनट तक

भोपाल- 04 बजकर 42 मिनट से 05 बजकर 47 मिनट तक

चंडीगढ़- 04 बजकर 23 मिनट से 05 बजकर 41 मिनट तक

मथुरा- 04 बजकर 31 मिनट से 05 बजकर 41 मिनट तक