सुप्रीम कोर्ट ने माना कि राम के जन्म के दावे का किसी ने विरोध नहीं किया

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में जो बात कही है। उसने उसने सबसे महत्वपूर्ण पक्ष यह रखा है कि किसी भी पक्ष ने अयोध्या में राम के जन्म स्थान के दावे का विरोध नहीं किया ।

0
ayodhya

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में जो बात कही है। उसने उसने सबसे महत्वपूर्ण पक्ष यह रखा है कि किसी भी पक्ष ने अयोध्या में राम के जन्म स्थान के दावे का विरोध नहीं किया । चबूतरा भंडारा से भी हिंदुओं के दावे की पुष्टि होती है और हिंदू परिक्रमा भी इस स्थान की किया करते थे। टाइटल सिर्फ आस्था से ही साबित नहीं होता है। रामलला ने ऐतिहासिक ग्रंथों के विवरण भी रखें हिंदू पक्ष द्वारा भी यह दलील दी गई थी कि मंदिर होने की पुष्टि होती है। इसके अलावा एएसआई की रिपोर्ट की प्रासंगिकता तथा योग्यता के आधार पर भी इसको सबल किया गया है।