इंदौर : आज के इस संसार में जहां कोई किसी का नहीं होता वहां कुछ ऐसे भी विरले व्यक्तित्व मिल जाते हैं। जिनके जीवन में दूसरों की सेवा ही परम धर्म होता है ऐसे ही दो व्यक्तित्व हैं पम्मी शाह एवं मीना चेलावत जिन्होंने नमो नवकार सेवा आश्रम स्थापित किया।

Also Read : उच्च न्यायालय खंडपीठ इंदौर में 11 फरवरी को ‘राष्ट्रीय लोक अदालत’

उपरोक्त बात मुख्य अतिथि जैन श्वेताम्बर सोश्यल ग्रुप्स फेडरेशन(Jain Shwetambar Social Groups Federation) के संस्थापक राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार जैन, फेडरेशन के निवृतमान राष्ट्रीय अध्यक्ष किशोर पोरवाल और महासचिव संतोष जैन मामा और सागर संजय शुक्ला ने आश्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन करते हुए कही। शुभारंभ के साथ ही यहाँ 15 बच्चों को आश्रय दिया गया है जिनके माता या पिता या दोनों ही नहीं हैं या स्कूल नहीं जाते हैं। इनकी स्कूल में शिक्षा के साथ साथ आश्रम में क्लास लगाकर उनके भविष्य को उज्ज्वल बनाया जाएगा।

Also Read : सिर्फ एक छात्र को पढ़ाने के लिए खुलता है यह सरकारी स्कूल, जानिए वजह

ये सभी अति गरीब परिवारों के बच्चे हैं जिनके खाने पीने रहने की व्यवस्था आश्रम में की गई है।इसी के साथ अभी यहाँ पाँच ऐसे बुजुर्ग भी आ गये हैं जिनका कोई नहीं है। इन्हें अपनाकर परिवार बनाया गया है। सेवा आश्रम के आधार स्तंभ खुशी शाह, हिना मेहता ,निखिल तवर, कार्तिक तवर ,ऋषभ जैन, एवं संजय नीमा हे जिन्होंने ने अतिथियों का स्वागत किया और संचालन तथा आभार माना।