चोरी हो गया मध्यप्रदेश का गांव

गुना, आपने धन की चोरी तो सुनी ही होगी, मगर मध्यप्रदेश में तो एक गांव की ही चोरी हो गई है… जी हां गुना जिले (Guna District) के राघौगढ़ विकासखंड में एक गांव भूमि पर तो उपस्थित है मगर कागजों में गायब है, इस वजह से इस गांव में न तो कोई पाठशाला है और न ही कोई चिकित्सालय। यहां तक कि इस गांव में रहने वाले लोगों को किसी शासकीय स्कीम का भी लाभ नहीं मिल पा रहा हैं.

Also Read – श्री कृष्ण जन्मभूमि पर मंदिर या मस्जिद, जानें क्या है हिन्दू मुस्लिम पक्षों के दावे

500 लोगों की जनसंख्या वाला उदयपुरा गांव पहले तोरई पंचायत में आता था, किन्तु परिसिमन के बाद अब ये गांव न तो पंचायत (Panchayt) का खंड रहा और न ही नगर परिषद का खंड बन सका। ऑनलाइन नहीं दिखने के कारण यहां कोई उन्नति कार्य नहीं हो पा रहे हैं। यहां तक कि विद्यालयों में नए बच्चों के दाखिले तक नहीं हो पा रहे हैं, क्योंकि समग्र आईडी में उनके नाम नहीं जोड़े जा सके। ग्रामीणों को राशन भी नहीं मिल पा रहा है, क्योंकि पोर्टल पर गांव नहीं है। महिलाओं को प्रसूति के बाद जो पैसे मिलते हैं, वो भी नहीं मिल पा रहे हैं। ग्रामीणों का ऐसा कहना है कि लगता है हमारा गांव ही चोरी हो गया है।

मामला हमारे हस्तक्षेप में आया है, जहां इस मसले को दूर करने के लिए निरंतर प्रयास कर रहे है। शीघ्र से शीघ्र इस पुरे मामले को ठीक कर लिया जाएगा, ये गलती कैसे हुई, इस बारे में भी पूरी जांच पड़ताल की जा रही हैं।