श्रीकांत और साईंप्रणीत डेनमार्क खुली के पहले दौर में ही आपस में

देश के लिए सुदिरमन कप और थामस-युबेर कप के विश्व फाइनल्स मुकाबले के बाद अब योरोप में ही सुपर श्रेणी के मुकाबले शुरु हो रहे हैं, डेनमार्क, फ्रांस और जर्मनी में लगातार तीन सप्ताह तीन स्पर्धाओं का दौर 19अक्टूबर से शुरु होगा, आल इंग्लैंड (मार्च)के बाद कोरोना की वजह से अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुपर श्रेणी स्पर्धाओं का दौर भी थम गया था, थामस-युबेर कप (आरहुस)के बाद डेनमार्क में ही ओडेन्से में 19 से 24 अक्टूबर तक डेनमार्क खुली सुपर-1,000 बैडमिंटन स्पर्धा है, भारत की पी वी.सिंधु को महिला एकल में चौथा क्रम और सात्विक साईंराज रैंकीरेड्डी-चिराग शेट्टी को पुरुष युगल में सातवां क्रम है ।

पुरुष एकल में भारत के 7 खिलाडी हैं, विश्व नंबर 14 और 15 भारत के किदाम्बी श्रीकांत और बी.साईंप्रणीत को पहले दौर में ही भिड़ना है, विश्व नंबर 25लक्ष्य सेन भी हमवतन विश्व नंबर 36 सौरभ वर्मा से पहले दौर में ही खेलेंगे, विश्व नंबर 28  समीर वर्मा को थाईलैंड के कुन्लावियुत वितिदसर्न से खेलना है, एच.एस.प्रणोय और पारुपल्ली कश्यप, महिला एकल में विश्व विजेता पी.वी.सिंधु और साइना नेहवाल है, विश्व नंबर 7 सिंधु का क्वार्टर फाइनल पांचवें क्रम की दक्षिण कोरिया की एन से योंग से और सेमीफाइनल प्रथम क्रम की चीन की चेन युफेई से संभावित है, चौथे क्रम की सिंधु को तुर्की की यिजित नेस्लिहान और थाईलैंड की

बुसनान को पहले और दूसरे दौर में हराना होगा, फिटनेस से जूझ रही साइना नेहवाल को जापानी अया ओहरी से खेलने के बाद आल इंग्लैंड उपविजेता पोर्नपवी चोचुंग से दूसरे दौर में भिड़ना होगा, पुरुष युगल में सात्विक और चिराग की जोड़ी, मनु अत्री और बी.सुमीथ रेड्डी, एम.आर.अर्जुन और ध्रुव कपिला एक ही क्वार्टर में हैं पहले दौर में ही साईंप्रणीत और लक्ष्य सेन फ्रेंच स्पर्धा में 26 से 31अक्टूबर तक पेरिस में हो रही फ्रेंच खुली सुपर-750 स्पर्धा है,पी.वी.सिंधु को तीसरा और सात्विक-चिराग को पांचवां क्रम मिला है,इस स्पर्धा में चीनी खिलाड़ी नहीं खेल रहे हैं, भारत के लक्ष्य सेन को पहले दौर में ही बी.साईंप्रणीत से खेलना है ।

श्रीकांत को विश्व नंबर एक जापान के केंतो मोमोता से, समीर वर्मा को छठवें क्रम के इंडोनेशिया के जोनातन क्रिस्टी और सौरभ वर्मा को पांचवें क्रम के इंडोनेशिया के एंथोनी सिंसुका जिंटिग से खेलना हैं, सिंधु को आसान साफ मिला है, सिंधु के पहले दो दौर के मैच आसान है, साइना नेहवाल को जापान की सयाका ताकाहाशी से पहले दौर में खेलना है, पुरुष युगल के साथ ही मिश्रित युगल में भी तीन भारतीय जोड़ी खेलेगी, हयलो खुली सुपर-500स्पर्धा सारब्रुकेन में 2 से 7 नवम्बर तक है ।

इंफोसिस इंडिया इंटरनेशनल से शुरुआत
भारत में 19 से 24 अक्टूबर तक बैंगलुरू में इंफोसिस फाउंडेशन इंडिया इंटरनेशनल चैलेंज बैडमिंटन स्पर्धा प्रकाश पादुकोण एकेडमी में हो रही है, भारत के अलावा नेपाल, मालदीव और श्रीलंका के खिलाड़ी ही खेल रहे हैं, यह स्पर्धा दो साल बाद हो रही है, 2019 तक मुम्बई में होती थी,पिछले साल कोई भी अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन स्पर्धा और इस साल भी अब तक कोरोना की वजह से भारत में नहीं हुई,भारत के सुभांकर डे और आकर्षी कश्यप को पहला क्रम है, पुरुष एकल में किरण जार्ज को दूसरा क्रम है, महिला एकल में मुग्धा आग्रे को दूसरा और मालविका बंसोड़ को तीसरा क्रम मिला हैं । लक्ष्य सेन फाइनल में पराजित

प्रथम क्रम प्राप्त लक्ष्य सेन फिर इंटरनेशनल चैलेंज स्पर्धा में भी नहीं जीत सके, विश्व नंबर 25 लक्ष्य डच खुली इंटरनेशनल चैलेंज बैडमिंटन स्पर्धा के फाइनल में दूसरा क्रम प्राप्त सिंगापुर के लोह कैन येव से 12-21,16-21से 35मिनट में हार गये,लक्ष्य विश्व नंबर 41लोह से पहले गेम में 3-9,5-11और 8-15से एवं दूसरे गेम में 5-7,8-9,8-11,11-17और 13-18से पीछे थे,अब लक्ष्य सुपर श्रेणी स्पर्धाओं में खेलेंगे, उन्होंने पिछले माह ओलंपिक विजेता डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसेन के साथ दुबई में अभ्यास किया है।

इंडोनेशिया को 19 साल बाद थामस कप
इंडोनेशिया ने गत विजेता चीन को 3-0से हराकर विश्व थामस कप टीम फाइनल्स बैडमिंटन स्पर्धा जीती, इंडोनेशिया को 19साल बाद और 14वीं बार यह खिताब मिला है,2002के बाद इंडोनेशिया 2010और 2016 में फाइनल खेला, लेकिन क्रमशः चीन और डेनमार्क से हार गया, एंथोनी सिन्सुका जिंटिग और जोनातन क्रिस्टी ने एकल एवं फेर एलफैन और मुहम्मद रियान अरदिआन्तो ने युगल मैच जीते, 10बार थामस कप जीत चुका चीन से शी युकी फाइनल
में नहीं खेले, चीन ने 15वीं बार युबेर कप जीता है