इंदौर। अखिल भारतीय श्वेतांबर जैन महिलासंघ केंद्रीय इकाई द्वारा आज़ादी के अमृत महोत्सव का आयोजन जालसभागृह में किया गया। 300 से अधिक महिलाएँ तिरंगे परिधान में उपस्थित थी। महिलाओं द्वारा नृत्य वाटिका कि प्रस्तुति से भारत कि अनेकता में एकता का मंचन किया। सर्व धर्म एकता, अहिंसा का मेसेज भी नाटक के माध्यम से दिया। महिलायें झाँसी की रानी, सुभाष चंद्र बोस, भारत माता, भिकाजी कामा (जिसने जर्मनी में तीरंदाज़ी फहराया था),अन्य किरदारों का मंचन किया।अध्यक्ष निशा संचेती ने अध्यक्षीय भाषण देते हुए सभी को तिरंगे भेंट किये।

Must Read- इंदौर: रक्षाबंधन पर सिटी बसों में मुफ्त सफर कर पाएंगी महिलाएं, महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने की घोषणा

आज़ादी के अमृत महोत्सव के तहत दृष्टिहीन बच्चों कि सर्जरी कर दृष्टि लौटाने का प्रयास महिलासंघ द्वारा किया जा रहा है। संस्थापक अध्यक्ष रेखा जैन ने बतलाया कि महिलासंघ के बैंड के साथ हाथ में तिरंगा लेकर भारत माता जयकारा के नारों कि गुंजन के साथ मार्चपास्ट करते हुए महिलाओं ने हॉल में प्रवेश किया।

देशभक्ति गीतों से सारोबार माहौल में सभी नें ख़ूब डांस किया। सचिव वंदना जैन, मंजू तांतेड ने स्वतंत्रता कि लड़ाई सें संबंधित प्रश्न के उत्तर देनें वालों को ईनाम दिया गया। हमारे देश को स्वदेशी, स्वावलंबन से महिलाओं को जोड़ने के लिए उमंग दीपावली शॉपिंग फ़ेस्टिवल का भी आयोजन किया जा रहा है ।