अप्रैल-मई में पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए माहौल अभी से बनने लगा है। बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी टीएमसी को एक के बाद एक बड़े झटके लग रहे हैं। टीएमसी से बगावत कर चुके शुभेंदु अधिकारी टीएमसी से सभी पदों से इस्तीफ़ा दे चुके हैं। उनके अलावा आज फिर एक और बड़ा झटका ममता सरकार को लगा है।

सुवेंदु अधिकारी और आसनसोल नगर निगम के चेयरमैन जितेंद्र तिवारी के बाद अब टीएमसी विधायक शीलभद्र दत्त ने भी विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। दरअसल, पिछले दो दिन में करीब 3 बड़े नेता अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं। यहां चुनाव से पहले ही पार्टी में घमासान मचा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, ममता ​बनर्जी को उस समय बड़ा झटका लगा था, ज​ब सुवेंदु अधिकारी ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। उसके बाद उन्होंने विधानसभा में अपना इस्तीफा सौंपने के लिए पहुंचे थे लेकिन स्पीकर की गैरमौजूदगी में उन्होंने सचिवालय को अपना इस्तीफा सौंप दिया। उनके इस्तीफे की खबर आई थी कि एक और खबर सामने आ गई।

जिसमें  पार्टी के विधायक और आसनसोल नगर निगम के चेयरमैन जितेंद्र तिवारी के इस्तीफे ने टीएमसी को और कमजोर कर दिया है। अब ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि सभी विधायक बीजेपी का दामन थामेंगे। बता दे, एक और ऐसी खबर आई है कि पिछले कई दिनों से नाराज चल रहे टीएमसी विधायक शीलभद्र दत्त ने भी पार्टी का साथ छोड़ दिया है। अभी ऐसा कहा जा रहा है कि और भी कई अधिकारी टीएमसी को छोड़ बीजेपी में जा सकते हैं।