शिवराज सरकार की नई पहल: एक फोन कॉल पर घर बैठे मिल रहे दस्तावेज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा हाल ही में एक ऐसी सार्थक पहल का आगाज़ किया गया है, जो प्रत्यक्ष रूप से जनता का बड़ी मात्रा में समय बचाने और आने वाली कई समस्याओं से चुटकियों में निपटने का समाधान बनकर सामने आई है।

MP News

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा हाल ही में एक ऐसी सार्थक पहल का आगाज़ किया गया है, जो प्रत्यक्ष रूप से जनता का बड़ी मात्रा में समय बचाने और आने वाली कई समस्याओं से चुटकियों में निपटने का समाधान बनकर सामने आई है। अब एक फोन कॉल करके आप घर बैठे कई अहम् दस्तावेज अपने व्हाट्सऐप पर प्राप्त कर सकते हैं। इसकी जानकर देसी सोशल मीडिया हैंडल, कू पर एमपी माई जीओवी के ऑफिशियल अकाउंट से दी गई है।

इस पोस्ट के माध्यम से कहा गया है:

“एक फोन कॉल पर घर बैठे मिल रहे दस्तावेज मध्यप्रदेश में एमपी स्टेट इलेक्ट्रॉनिक डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन ने लोक सेवा केंद्रों से मिलने वाली आय व मूल निवासी प्रमाणपत्र, खसरा खतौनी नक्शे सहित दस आवश्यक सेवाएँ व्हाट्सऐप से जोड़ दी हैं। अब आवेदक को 181 नंबर पर कॉल करके तय प्रक्रिया पूरी करते ही माँगे गए दस्तावेज की प्रामाणिक कॉपी वॉट्सएप पर ही मिल जाती है। #SushasanMP”

हम यह कह सकते हैं कि माननीय प्रधानमंत्री द्वारा चलाया गया अभियान ‘डिजिटल इंडिया’ जोरों-शोरों से आगे बढ़ रहा है। इसके साथ ही, विगत वर्षों में हर दिन तरक्की को बढ़ता भारत डिजिटल रूप से काफी सुचारु हुआ है।

ऑनलाइन पेमेंट विशेषकर यूपीआई को काफी मजबूती मिली है, बड़े-बड़े शॉपिंग मॉल से लेकर छोटी-सी दुकान और यहाँ तक की स्टॉल आदि पर भी यूपीआई ट्रांजेक्शन्स बेहद आम बात हो चली है। इसी के साथ सोशल मीडिया पर सबसे अहम् दस्तावेज चुटकियों में मिल जाना असीम तरक्की का उदाहरण ही तो है।

जहाँ दस्तावेजों को बनवाने के लिए लोगों को महीनों कार्यालयों के चक्कर काटने के साथ ही घंटों कतार में खड़े रहना पड़ता था, इस समस्या का शिवराज सरकार ने बखूबी निपटान कर दिया है। अब बिना किसी परेशानी के आपके सोशल मीडिया हैंडल यानी व्हाट्सऐप के माध्यम से पलक झपकते ही कई महत्वपूर्ण दस्तावेज आपके सामने होंगे।

बता दें कि इन दस्तावेजों में लोक सेवा केंद्रों से मिलने वाले आय तथा मूल निवासी प्रमाणपत्र, खसरा खतौनी नक्शे सहित दस आवश्यक सेवाएँ व्हाट्सऐप से जोड़ दी हैं। इसके लिए आवेदक को 181 नंबर पर कॉल करके निश्चित प्रक्रिया को पूरा करना होगा, जिसके बाद माँगे गए दस्तावेज की प्रामाणिक कॉपी व्हाट्सऐप पर सरलता से मिल जाएगी।

Koo App

एक फोन कॉल पर घर बैठे मिल रहे दस्तावेज. ————– मध्यप्रदेश में एमपी स्टेट इलेक्ट्रानिक डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने लोक सेवा केंद्रों से मिलने वाली आय व मूल निवासी प्रमाणपत्र,खसरा खतौनी नक्शे सहित दस आवश्यक सेवाएं व्हाट्सऐप से जोड़ दी हैं। अब आवेदक को 181 नंबर पर कॉल करके तय प्रक्रिया पूरी करते ही मांगे गए दस्तावेज की प्रामाणिक कॉपी वॉट्सएप पर ही मिल जाती है। #SushasanMP

MP MyGov (@mpmygov) 15 Jan 2022